बाड़मेर भास्कर

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
धोरीमन्ना >गुड़ामालानी>शिव>चौहटन>गडरारोड>बायतु

आजकल घर मे बीवी भी बात-बात में GST बोलने लगी है।

तंग आकर मैंने पूंछा: ‘बीच-बीच में ही GST बोल कर चल देती हो…क्या मतलब है तुम्हारा?’ उसने जो जवाब दिया तो मैं सिर पकड़ कर बैठ गया। उसने कहा- G - गलती, S - सिर्फ, T - तुम्हारी है

जिस आदमी से हमें काम लेना है, उससे हमें वही बात करनी चाहिए जो उसे अच्छी लगे। जैसे एक शिकारी हिरन का शिकार करने से पहले मधुर आवाज़ में गाता है। -चाणक्य

खबरें और भी हैं...