पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • न्यायिक कर्मचारियों ने निकाली रैली, सरकार के खिलाफ नारेबाजी

न्यायिक कर्मचारियों ने निकाली रैली, सरकार के खिलाफ नारेबाजी

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शेट्टीवेतन आयोग को लागू करने की मांग को लेकर राजस्थान न्यायिक प्रदेश कार्यकारिणी के आह्वान पर शुक्रवार को भी न्यायिक कर्मियों ने कार्य का बहिष्कार जारी रखा। सुबह 10.30 बजे न्यायिक कर्मी एकत्रित हुए और जुलूस के रूप में कचहरी परिसर में रैली निकाली। इस दौरान न्यायिक कर्मियों ने वसुंधरा सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की।

कर्मियों का कहना है कि जब तक राज्य सरकार द्वारा सेठी कमीशन की सिफारिशें लागू नहीं की जाएगी, तब तक सभी न्यायिक कर्मचारी सामूहिक अवकाश पर रहेंगे। करीब एक घंटे तक न्यायिक कर्मियों ने कचहरी परिसर में प्रदर्शन कर नारेबाजी की। इसके बाद सभी कचहरी परिसर में बने मंदिर में बैठकर आंदोलन की रणनीति बनाते रहे। जिलाध्यक्ष घनश्याम सिंह एवं जिला संयोजक ओमप्रकाश कटारा ने बताया कि प्रदेश कार्यकारिणी न्यायिक कर्मचारी संघ राजस्थान के आह्वान पर सेठी कमीशन द्वारा दी गई सिफारिशों को लागू करने के लिए धौलपुर न्याय क्षेत्र के समस्त न्यायिक कर्मचारी गुरुवार से अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार कर सामूहिक अवकाश हैं। इस संबंध में न्यायक्षेत्र में न्यायिक कार्य सभी न्यायालयों में अन्य विभागों के गैर न्यायिक कर्मचारी से कराया जा रहा है, जिन्हें न्यायिक कार्य करने का कोई अनुभव ज्ञान नहीं है। ऐसी स्थिति में यदि किसी पत्रावली या अभिलेख से कोई दस्तावेज, पत्रावली या कार्यालय का कोई अन्य सामान, रजिस्टर आदि गुम, नष्ट, परिवर्तन, काट-छांट या अन्य किसी प्रकार की क्षति होती है तो इसकी समस्त जिम्मेदारी सम्बंधित सीगेदार या किसी भी न्यायिक कर्मचारी की नहीं होने बाबत जिला एवं सैशन न्यायाधीश धौलपुर के मार्फत राजस्थान उच्च न्यायालय को ज्ञापन सौंपा गया।

इसके अलावा धौलपुर मुख्यालय पर न्यायिक कर्मचारीगण ने सुबह 11 बजे एक सभा का आयोजन किया। सभा की अध्यक्षता गंभीरसिंह चौहान, कार्यालय अधीक्षक द्वारा की गई जिसमें सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया गया कि इस न्यायक्षेत्र के कर्मचारी द्वारा अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार किया जाएगा और जब तक राज्य सरकार द्वारा सेठी कमीशन की सिफारिशें पूर्णतः लागू नहीं की जाएगी। तब तक समस्त न्यायिक कर्मचारीगण सामूहिक अवकाश पर रहेंगे। इसी प्रकार बाडी एवं राजाखेडा मुख्यालय स्थित न्यायालयों में भी धरना-प्रदर्शन किया गया एवं समस्त कर्मचारी अवकाश पर रहे। सभा में देवेन्द्र सोलंकी मुंसरिम, प्रदीप श्रीवास्तव, ओमबाबू शर्मा, हेमचन्द गुप्ता, मनीष, रामकुमार अग्रवाल, नरेश, मुनीष, सुधीर, गोपालसिंह, दीपक, महेशदत्त, राजीव, राजकुमार, कोमल, पंकज शर्मा, प्रदीप राना, सत्यपालसिंह, मुकेश बंसल, होतीसिंह, सोमी जैन आदि कर्मचारी उपस्थित रहे। जिन्होंने न्यायालय परिसर में शान्तिपूर्ण तरीके से रैली निकाली न्यायालय परिसर में स्थित श्रीगिर्राज मन्दिर में राज्य सरकार को सद्बुद्धि देते हुये सेठी कमीशन की सिफारिशों को शीघ्र लागू करने के लिए श्रीगणेश जी की वन्दना एवं श्री हनुमान चालीसा का पाठ किया।

खबरें और भी हैं...