• Hindi News
  • National
  • हिंदी संस्कृत समूह गान प्रतियोगिता में आदर्श विद्या मंदिर की बालिकाएं प्रथम

हिंदी संस्कृत समूह गान प्रतियोगिता में आदर्श विद्या मंदिर की बालिकाएं प्रथम

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भारतविकास परिषद की ओर से संस्कार प्रकल्प के तहत राष्ट्रीय समूह गान, राष्ट्रीय संस्कृत समूह गान लोकगीत प्रतियोगिता का शनिवार को सेंट राजेश्वर कॉन्वेंट स्कूल में आयोजन किया गया जिसमें छह विद्यालयों के कक्षा 6 से 12वीं तक के विद्यार्थियों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक अमृता मेघवाल ने कहा कि वर्तमान समय में पश्चिमी सभ्यता के अनुकरण से जहां युवाओं की राष्ट्रभक्ति कम हो रही है, वहीं परिषद की ओर से इस प्रकार के संस्कारमय कार्यक्रम आयोजन से निश्चित रूप से युवाओं में नई चेतना का संचार होगा। डिप्टी डॉ. दुर्गसिंह राजपुरोहित ने परिषद की ओर से करवाए जा रहे आयोजन की सराहना की। कार्यक्रम को डीईओ प्रारंभिक रामकृष्ण मीणा, माली समाज सेवा संस्थान अध्यक्ष भभूताराम सोलंकी जालोर ग्रेनाइट एसोसिएशन उपाध्यक्ष प्रकाश परमार ने भी संबोधित किया। प्रांत सेवा प्रमुख पदमाराम चौधरी ने स्वागत भाषण देते हुए कार्यक्रम के उद्देश्यों के बारे में बताया। इसके बाद विद्यार्थियों की ओर से देशभक्ति आधारित गीतों की प्र स्तुतियां दी गई। सुशीला तिवारी ने प्रतियोगिता के नियमों के बारे में विद्यार्थियों को अवगत करवाया। कार्यक्रम का संचालन प्रमोद दवे ने किया। इस अवसर पर ईश्वरलाल शर्मा, पूर्व एसई बीएल सुथार, मदनलाल माली, देशाराम माली, विनोद चौधरी, प्रवीण खंडेलवाल, कांतिलाल भंडारी, गोपाल स्वामी बालकृष्ण शर्मा सहित गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।

यहरहा परिणाम

राष्ट्रीयसमूह गान हिंदी संस्कृत समूहगान की संयुक्त प्रतियोगिता में आदर्श विद्या मंदिर बालिका उमावि जालोर टीम प्रथम, आदर्श विद्या मंदिर उमावि की टीम द्वितीय सेंट राजेश्वर कॉन्वेंट सेकंडरी स्कूल की टीम तीसरे स्थान पर रही। लोकगीत प्रतियोगिता में आदर्श विद्या मंदिर बालिका उमावि जालोर की टीम प्रथम, सेंट राजेश्वर कॉन्वेंट सेकंडरी स्कूल की टीम द्वितीय ज्योति बा फूले उमावि की टीम तीसरे स्थान पर रही।

बालिकाओंको दिया अंग्रेजी ग्रामर का ज्ञान

आबूरोड|जिलाप्रमुख पायल परसरामपुरिया की ओर से चलाए जा रहे पायल सखी कार्यक्रम के तहत शनिवार को ओर छात्रावास में बालिकाओं को इंग्लिश ग्रामर के विषय में अवगत करवाया गया। छात्रावास बालिकाओं ने उत्साह से भाग लिया। क्लास के लिए लगाए गए इंग्लिश टीचर ने बालिकाओं का मूल्यांकन किया, इसमें दो दिन पूर्व में सिखाये गए विषय पर प्रश्नोतरी रखी गई, जिसमें बालिकाओं ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया।





वही बालिकाओं ने जिला प्रमुख पायल परसरामपुरिया का धन्यवाद देते हुए कहा कि पहली बार ऐसा अवसर आया, जिसमें उन्हें एक सरल तरीके से कठिन विषय का ज्ञान दिया जा रहा।

जालोर. हिंदी संस्कृत समूह गान प्रतियोगिता में भाग लेती छात्राएं।

खबरें और भी हैं...