कुचामन

--Advertisement--

दिखावे का भक्ति में कोई स्थान नहीं हैं : मुनि

कुचामन सिटी| शहरके टैगोर स्कूल में चल रहे जैन मुनि प्रमाण सागर महाराज के कार्यक्रम के दूसरे दिन प्रवचन हुए। इस...

Dainik Bhaskar

Jun 11, 2016, 05:10 AM IST
दिखावे का भक्ति में कोई स्थान नहीं हैं : मुनि
कुचामन सिटी| शहरके टैगोर स्कूल में चल रहे जैन मुनि प्रमाण सागर महाराज के कार्यक्रम के दूसरे दिन प्रवचन हुए। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि भगवान के आगे याचक मत बनो बल्कि अच्छे भक्त बनने का प्रयास करों। भक्त बनकर प्रार्थना करने पर कल्याण निश्चित है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में दिखावा बढ़ गया है। यह नैतिक पतन की ओर अग्रसर करता है। धर्म कभी भी दिखावा करने की शिक्षा नहीं देता हैं। महाराज ने कहा कि जीवन को सफल बनाने के लिए सच्चे मन से भक्ति करनी होगी। दिखावे का भक्ति में कोई स्थान नहीं है। प्रवचन के दौरान विधान का आयोजन हुआ। जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने भाग लिया। इस मौके पर टैगोर ग्रुप के चेयरमैन पूर्णसिंह रणवां, कमल पहाड़िया, झाबरसिंह, जगदीश कुल्हरी, विजय बज, अनिल काला, विनोद झांझरी मौजूद थे। शाम को यहां शंका समाधान कार्यक्रम का आयोजन हुआ। जिसमें लोगों ने अपनी जिज्ञासाएं महाराज के समक्ष रखकर समाधान प्राप्त किया। इस अवसर पर महिलाओं ने मंगल गीत प्रस्तुत किए।

X
दिखावे का भक्ति में कोई स्थान नहीं हैं : मुनि
Click to listen..