पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • देहलवाल मेले में उमड़ा श्रद्धालुओं का सैलाब

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

देहलवाल मेले में उमड़ा श्रद्धालुओं का सैलाब

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज | मलारना डूंगर

कस्बेके सैनीपुरा बस्ती में चल रहे तीन दिवसीय देहलवाल मेले के दूसरे दिन हजारों लोगों ने लोक देवता तेजाजी के ढोक लगा परिवार की सुख समृद्धि की कामना की। सोमवार को सुबह से ही कस्बे सहित मानोली, खोहरी, मुहम्मदपुर, भूका, सांगरवासा आदि गांवों से ग्रामीणों का कार, जुगाड़, बाइक, पैदल आना प्रारम्भ हो गया था। देखते ही देखते श्रद्धालुओं की तादाद हजारों में पहुंच गई। देहलवाल बाबा के मन्दिर में परिक्रमा लगा ढोक दे भक्त अपने परिवार की कुशलता की कामना कर रहे थे। वहीं मेला मैदान में अनेक गांवों से आए भजन गायक मंडलियां तेजाजी के भजनों का गायन कर रही थी। मेले में जहरीले कीटों से दंशित प्राणियों की तांतिया काटी गई। मेले में कमेटी द्वारा छाया पानी की व्यवस्था की गई थी। मलारना स्टेशन रोड पर श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ था। शांति सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस बल मौजूद था। मेला मैदान में अनेक सामानों की दुकानें लगी हुई थी जिन पर ग्रामीण महिलाएं बच्चों की खरीदारी करने के लिए भीड़ लगी हुई थी।

खिरनी| कस्बेमें देहलवालजी मेले के पहले दिन पुरा, जोलंदा, बड़ौदिया, मोतीपुरा, भाड़ौती, मेदपुरा, चांदनहोली, गादोता देवता सहित दर्जनों गांवों के लाखों भक्तों ने देहलवाल बाबा के दर्शन किए। मेले के पहले दिन आसपास के गांवों के लोक कलाकारों ने वीर तेजाजी बाबा के भजनों की प्रस्तुतियां दी। खिरनी के गायक रामकेश सैनी ने तेजाजी के अलगोजा गायन के माध्यम से तेजाजी महाराज के ससुराल जाने का बखान करते हुए धार्मिक गीतों की प्रस्तुतियां देकर भक्तों को भाव विभोर किया। इस दौरान मेले में कीड़ों के दंश से पीड़ित सैकड़ों लोगों की तांतियां काटी गई। मेले में दुकानों पर अधिकतर बच्चों के खिलौने, मिट्टी के बर्तन, मिठाइयां आदि खरीदने वालों की काफी भीड़ देखने को मिली। मेले में सुरक्षा व्यवस्था के लिए बौली थानाधिकारी राजेश पाठक, एएसआई जनक सिंह गुर्जर एवं धर्मसिंह मीना, खिरनी चौकी प्रभारी बनवारी सिंह के साथ पुलिस जाब्ता तैनात था। खिरनी के माली गुर्जर समाज की ओर से जगह जगह पर पेयजल व्यवस्था की गई। इसके साथ ही बाबा रामदेवजी मन्दिर में भी भक्तों ने बाबा रामदेवजी के दर्शन किए।

गांवोंमें तेजाजी मेले की रही धूम

मलारना स्टेशन | मलारनास्टेशन क्षेत्र के श्यामोली गांव, रागल की ढाणी, बिच्छीदौना आदि गांवों में तेजाजी मेले की धूम रही। इस अवसर पर बैंड बाजे के साथ वीर तेजाजी की कथा सुनाई गई। ग्रामीणों द्वारा दूर दराज से आए श्रदालुओं के लिए भंडारों का आयोजन किया गया। इस दौरान मेले में जहरीले कीटों के दंश से पीड़ित लोगों की तांतियां काटी गई।

मलारनाचौड़ | कस्बेके दुर्गा माता मन्दिर के पास स्थित वीर तेजाजी महाराज के स्थान पर लगने वाला वार्षिक मेला 25 सितंबर को आयोजित होगा। समिति अध्यक्ष अल्लु मीना ने बताया कि 24 सितंबर को कस्बे में तेजाजी महाराज की बैंडबाजों अलगोजों के साथ बिंदौरी निकालने के साथ बैराड़ा बामनवास की गायन पार्टियों द्वारा रात्रि जागरण किया जाएगा। इसको लेकर कार्यकर्ताओं द्वारा क्षेत्र के कई गांवों का दौरा कर ग्रामीणों को मेले में आने का आह्वान किया जा रहा है।

भाड़ौती| कस्बेके समीप देहलोद गांव में दो दिवसीय लोक देवता देहलवाल बाबा के मेले के दूसरे दिन भक्तों का सैलाब उमड़ पडा। वीर तेजाजी की गायन पार्टियों के द्वारा मधुर संगीत के साथ तेजाजी के भजन प्रस्तुत किए गए। इससे पहले रविवार रात देहलवाल बाबा की गाजे बाजे के साथ गांव के मुख्य मार्गों से बिंदौरी निकाली गई। कस्बे सहित भारजा नदी, देवली, गंभीरा आदि गांवों के महिला पुरुषों का दिनभर मेले मे आना लगा रहा, जिससे मेले में खासा उत्साह देखा गया। मेले में जहरीले कीड़ों के सताए 21 लोगो के बंद भी तोड़े गए।

हिंदूपुरा| निकटवर्तीग्राम बासड़ा नदी एवं राठोद निमोद में स्थित प्राचीन तेजाजी के दो दिवसीय वार्षिक मेले का सोमवार को समापन किया गया। ग्रामीणों द्वारा तेजाजी महाराज की कई गांवों में गाजेबाजे के साथ पैदल बिंदौरी निकाली गई। बासड़ा नदी गांव के तेजाजी महाराज का मेला रविवार को आयोजित किया गया, जबकि राठोद गांव में मुख्य मेले का सोमवार को आयोजन किया गया। ग्राम राठोद में तेजाजी महाराज सेवा समिति की ओर से रविवार रात को कन्हैया पद दंगल का आयोजन किया गया। खिरखड़ी बौंली की कन्हैया पद दंगल पार्टी ने एक से बढ़कर एक देवनारायण भगवान की जीवन कथा पर पद प्रस्तुत करके लोगों को रातभर पद सुनने को मजबूर कर दिया। मेला आयोजन समिति की ओर से पद प्रस्तुत करने वाली विजेता खिरखड़ी तहसील बौंली बौंली के मेड़िया को साफा एवं माला पहनाकर सम्मानित किया गया। सोमवार को सुबह से तेजाजी के दर्शन करने के लिए भीड़ लग गई। मेले में कुश्ती, घुड़दौड़, नाळ उठाना सहित कई प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया।

बौंली| लोकदेवता वीर तेजाजी महाराज के वार्षिक मेलों का आयोजन सोमवार को जगह-जगह हुआ। बौंली में रविवार रात को तेजाजी महाराज की बिंदौरी निकाली गई एवं सोमवार को मेले का आयोजन हुआ, जिसमें उपस्थित सैकड़ों भक्तजनों ने पूजा अर्चना की। इस अवसर पर भजन गायकों ने भजन प्रस्तुत किए।

दर्शनकर मांगी मनौतियां

चौथ का बरवाड़ा | कस्बेमें रायसागर तालाब के पास स्थित देहलवाल बाबा के स्थान पर सोमवार को मेला लगा। इस अवसर पर लोगों ने देहलवाल के दर्शनकर मनौतियां मांगी। साथ कई धार्मिक कार्यक्रमों में भाग लिया। इस अवसर पर मंदिर में ग्राम पंचायत की ओर से आकर्षक रोशनी की गई। साथ ही नाथ समाज की ओर से रात्रि जागरण का आयोजन किया गया। यहां लगी दुकानों पर लोगों ने जाकर खरीदारी की।

कुस्तला| कस्बेमें तीन दिवसीय देहलवालजी मेले के दौरान रविवार को देहलवाल बाबा की बैंडबाजों के साथ बिंदौरी निकाली गई, जिसमें कई श्रद्धालु शामिल हुए। इस दौरान आयोजित कार्यक्रम में अलगोजों के साथ गायक कलाकारों द्वारा भजन प्रस्तुत किए गए। सोमवार को जहरीले कीड़ों के दंश से पीड़ित लोगों की तांतियां काटी गई।

मलारना डूंगर. देहलवालमेले में तेजाजी का गायन सुनते श्रद्धालु। जस्टाना.खिरनीके देहलवालजी मेले में अलगोजों की धुन पर गीतों की प्रस्तुति देते कलाकार मौजूद श्रोता।

सवाईमाधाेपुर | सामान्यचिकित्सालय आलनपुर के पीछे स्थित देलवाल मंदिर में सोमवार को तेजाजी महाराज का मेला आयोजन हुआ। इस दौरान श्रद्धालुओं ने तेजाजी महाराज की पूजा अर्चना कर परिवार की कुशल कामना की। मंदिर परिसर में सजी दुकानों पर महिलाओं एवं बच्चों ने जमकर खरीदारी की। इस दौरान मंदिर परिसर तेजाजी महाराज के जयकारों से गूंज उठा। मेला आयोजन को लेकर पुलिस प्रशासन की ओर से सुरक्षा के व्यापक बंदोबस्त किए गए थे। मेला आयोजकों की ओर से मंदिर परिसर को रोशनी से सजाया गया था। भजन गायकों ने अलगोजों की तान पर तेजाजी महाराज के भजन सुनाए। भजनों से भाव विभोर होकर श्रद्धालुओं ने नृत्य कर तेजाजी महाराज को रिझाया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी मेहनत और परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होने वाला है। कोई शुभ समाचार मिलने से घर-परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। धार्मिक कार्यों के प्रति भी रुझान बढ़ेगा। नेगेटिव- परंतु सफलता पा...

    और पढ़ें