विज्ञापन

भगवान भक्त को ढूंढते हैं

Dainik Bhaskar

May 20, 2016, 05:05 AM IST

Malpura News - अखिलभारतीय बैरवा महासभा झिराना की ओर से बाबा रामदेव मंदिर में चल रहे पांच दिवसीय नवकुंडात्मक चतुर्थ वेद शत्कम...

भगवान भक्त को ढूंढते हैं
  • comment
अखिलभारतीय बैरवा महासभा झिराना की ओर से बाबा रामदेव मंदिर में चल रहे पांच दिवसीय नवकुंडात्मक चतुर्थ वेद शत्कम ज्ञान कुम्भ महायज्ञ दौरान चल रही रामकथा में गुरुवार को ओमप्रकाश शास्त्री ने कहा कि राम कथा रूपी दृढ़ नौका में बैठकर जीव सहज ही भवसागर से पार हो सकता है। यज्ञाचार्य विनोद कुमार, भवदेव शास्त्री ने श्रद्धालुओं को संबोधित किया। इस मौके काफी संख्या में महिला-पुरूष श्रद्धालु उपस्थित थे। वहीं महायज्ञ में श्रद्धालुओं ने यज्ञ मंडप के परिक्रमा लगा धर्म लाभ लिया। इससे पहले यज्ञ संचालक संत वीरमदेव की प्रेरणा से यज्ञाचार्य डॉ. विनोद कुमार, भवदेव शास्त्री, ओमवृत्त शास्त्री के सान्निध्य में यजमान दम्पितयों ने सबसे पहले नित्य पूजा अर्चना के तहत गणपति, षोडश मातृका, नवग्रह, वास्तु पूजन किया गया। यज्ञ में वैदिक मंत्रोच्चार के साथ 35 यजमानों ने सप|ीक यज्ञ कुंडों में आहुतियां दी। जिसमें श्रीराम, रूद्र समेत सभी देवी देवताओं को आहुति दी गई। इसके बाद महाआरती का आयोजन किया गया।

आध्यात्मिकसंगोष्ठी का आयोजन

महायज्ञमें गुरुवार को दोपहर में आध्यात्मिक संगोष्ठी का भी आयोजन हुआ। जिसमें नागौर आश्रम के नानकदास डोडवाड़ी आश्रम के चेतनदास महाराज, कोटा आश्रम के अभिलाख साहेब, मालपुरा के रामनिवास महाराज ने कहा कि परमात्मा को केवल भक्ति और श्रद्धा से पाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि परिवर्तन इस संसार का नियम है यह संसार परिवर्तनशील है, जिस प्रकार एक वृक्ष से पुराने पत्ते गिरने पर नए पत्तों का जन्म होता है, इसी प्रकार मनुष्य अपना पुराना शरीर त्यागकर नया शरीर धारण करता है। इसलिए मानव मात्र को प्रभू भक्ति में लगना चाहिए। क्योंकि प्रभू की भक्ति हमेशा सुख देने वाली होती है। इस अवसर पर काफी संख्या में महिला-पुरूष श्रद्धालु उपस्थित थे।

रामदेवगंगा माता प्रतिमा प्राण प्रतिष्ठा समारोह 20 से

मालपुरा | रैगरसमाज पाळ मालपुरा के तत्वावधान में बाबा रामदेव गंगा माता की मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा 20 21 मई को समारोह पूर्वक की जाएगी। इस अवसर पर प्रतिभाओं काे भी सम्मानित किया जाएगा। पंडित जगदीश प्रसाद वेदी कोटा रामचंद्र जी महाराज आश्रम नरवर अजमेर के सानिध्य में आयोजित प्राण प्रतिष्ठा समारोह के मुख्य अतिथ विधायक हीरा लाल रैगर होंगे तथा समारोह की अध्यक्षता विधायक कन्हैयालाल चौधरी करेंगे। समारोह में अखिल भारतीय रेगर समाज की उपाध्यक्षा सुधा जाजोरिया, राष्ट्रीय महासचिव रामसहाय वर्मा , प्रदेशाध्यक्ष डॉ. एस के मोहनपुरिया तथा एक्सईएन जलदाय रामजीलाल वर्मा उपाध्यक्ष अंबेडकर छात्रावास विशिष्ठ अतिथ होंगे। समाज के निर्धारित कार्यक्रम अनुसार बीस मई को सुबह सात बजे विशाल कलश यात्रा निकाली जाएगी। सम्मान समारोह आदर्श विद्यामंिदर बालिका आदर्शनगर के पास मैदान पर आयोजित किया जाएगा रात को सतसंग होगा तथा 21 मई को यज्ञ हवन सबह नो बजे मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा 11. 50 बजे की जाएगी। स्कूल के पास मैदान में भंडारा आयोजित किया जाएगा। भंडारे के लिए लोगों ने तैयारियां शुरू कर दी है।

दोदिवसीय नृसिंह जयंति महोत्सव आज से

निवाई | शुक्रवारको दो दिवसीय नृसिंह जयन्ती महोत्सव का शुभारंभ होगा। मन्दिर महन्त विष्णुदत्त शर्मा ने बताया कि 20 मई को नृसिंह जयंति मनाई जाएगी इस दौरान भगवान नृसिंह अवतार की झांकी प्रदर्शित की जाएगी। इस अवसर पर अनेक झांकियां भी मंदिर परिसर में सजाई जाएगी। उन्होंने बताया कि महोत्सव के दौरान शनिवार को वराह अवतार की झांकी सजाई जाएगी। इस अवसर पर भगवान गणेश, हनुमान जी, शिव-पार्वती, महाकाली, भगवान राधाकृष्ण हिरणाकश्यप, भक्त प्रहलाद की सजीव झांकियों का मंचन किया जाएगा। महोत्सव के अवसर पर छप्पन भोग की झांकी सजाई जाएगी। समाराेह की तैयारियों जोर शोर से चल रही है। इसके लिए अपने-अपने स्तर पर आमजन कार्य कर रहे है। समारोह को लेकर लोगों में खासा उत्साह है। अामजन कार्यक्रम में सक्रिय भूमिका निभाना चाहता है।

नरसिंहभगवान की झांकी आज

नासिरदाउपतहसील मुख्यालय के मुख्य बाजार स्थित श्री गोपाल जी महाराज मंदिर से शुक्रवार को भगवान नृसिंह की झांकी बेंड बाजे के साथ निकाली जाएगी। शाम को 6 बजे भक्त प्रहलाद की महाआरती होगी।

मोर. दतोबग्राम में नवदिवसीय नवकुण्डात्मक विष्णुमहा यज्ञ के समापन्न के मुख्य अतिथि श्री श्री 108 श्री मोती गिरी महाराज वयज्ञचार्य बाबा अमरदास जी नागा,समिति अध्यक्ष सुबेदार रामश्वर चौधरी फोजी द्रारा प्रधान कुण्ड की अग्रि में आहुतियां देते हुए।

पीपलू. झिरानामें चतुर्थ वेद शत्कम ज्ञानयज्ञ में हवन कुण्ड में आहुति के पश्चात यजमान दंपती एवं अन्य प्रवचन सुनते हुए।

भगवान भक्त को ढूंढते हैं
  • comment
X
भगवान भक्त को ढूंढते हैं
भगवान भक्त को ढूंढते हैं
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन