1.21 लाख में लगाई कलश की बोली

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर संवाददाता | फूलियाकलां

वैष्णवबैरागी समाज सेवा समिति के तत्वावधान में धानेश्वर स्थित समाज के हनुमान मंदिर शिखर पर स्वर्ण कलश की स्थापना की गई। इस दौरान हजारों समाज के लोग मौजूद थे। समिति अध्यक्ष गोपालदास वैष्णव ने बताया कि मंदिर पर नवनिर्मित 51 फीट ऊंचे शिखर पर सोमवार को स्वर्ण कलश स्थापना की गई।

इसके तहत विभिन्न बोलियां लगाई गई। छोटी मेहरू (अजमेर) निवासी तुलसीरामदास ने एक लाख इक्कीस हजार रुपए देकर कलश स्थापना की बोली लगाई। गाजे-बाजे के बीच आयोजन के दौरान ड्रोन से धानेश्वर में पुष्पवर्षा की गई। मंदिर में निर्मित विभिन्न छतरियों पर भी बोली लगाकर कलश स्थापना की गई। मंदिर निर्माण समिति अध्यक्ष जगदीशदास वैष्णव ने बताया कि धार्मिक आयोजन के तहत मंदिर परिसर में कथावाचक पं. विष्णुदत्त दाधीच ने भागवत कथा अक्षय महाराज ने नानीबाई का मायरा कथा सुनाई। इस अवसर पर पंचकुंडीय यज्ञ का आयोजन किया गया, जिसके मुख्य यजमान राधेश्याम वैष्णव कैलाश वैष्णव थे। मंदिर निर्माण में सहयोग करने वाले समाज के भामाशाहों काे साफा श्रीफल देकर सम्मानित किया गया।

नारायणधाम आश्रम के संत शंकरदास महाराज सहित अन्य संतों का भी शॉल श्रीफल भेंटकर समाज की ओर से सम्मान किया गया। इससे पूर्व रविवार को भजन संध्या हुई, जिसमें धर्मेंद्र गावड़ी ने भजनों की प्रस्तुति दी। इस दौरान समाज के चित्तौड़ जिलाध्यक्ष मदनदास वैष्णव, नवयुवक मंडल अध्यक्ष लक्ष्मण वैष्णव जिले सहित अजमेर, चित्तौड़ अन्य जिलों से आए वैष्णव बैरागी समाज के हजारों पुरुष, महिलाएं बच्चे मौजूद थे।

फूलियाकलां. समारोह को संबोधित करते वक्ता मंच पर बैठे अतिथि।

आयोजन

खबरें और भी हैं...