पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • मेवाड़ के ऐतिहासिक तथ्यों से खिलवाड़ पर शिक्षक नाराज

मेवाड़ के ऐतिहासिक तथ्यों से खिलवाड़ पर शिक्षक नाराज

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भीलवाड़ा | राजस्थानशिक्षक संघ (राष्ट्रीय) की स्थाई समिति की बैठक सोमवार को हुई। इसमें संगठनात्मक मुद्दों के साथ ही हाल अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के नाम पर इतिहास तथ्यों से खिलवाड़ के हाल ही उठे विषय पर चर्चा की गई। इसके बाद जिला मुख्यालय सहित उपखंड मुख्यालयों पर ज्ञापन दिए गए। संगठन के जिला मंत्री दिनेश भट्ट ने कहा कि रानी पदमिनी ने 16 हजार वीरांगनाओं के साथ जौहर किया था। भारतीय नारी की गरिमा को बनाए रखने में उनका योगदान अविस्मरणीय है। लेकिन फिल्म निर्माता संजय भंसाली ने अपनी फिल्म पद्मावती के माध्यम से इतिहास के ऐसे चरित्र को विकृत करने का प्रयास किया है। भंसाली के इस प्रयास के विरोध में जिले की सभी उप शाखाओं ने उपखंड स्तर पर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिया गया। जिलाध्यक्ष कैलाशचंद्र सुथार ने बताया कि ज्ञापन देने में नगर अध्यक्ष राजेंद्र शर्मा, मंत्री राकेश पंचोली, रविंद्र मारू, सत्यनारायण वैष्णव, सुशीला जाट, सुरेश शर्मा, सुरेश बड़वा एवं विनोद झंवर आदि मौजूद थे।

मांडल | शिक्षक संघ राष्ट्रीय के पदाधिकारियों ने सोमवार को राष्ट्रपति राज्यपाल के नाम उपखंड अधिकारी सीएल शर्मा को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के नाम पर देश के गौरवशाली इतिहास, सभ्यता संस्कृति से खिलवाड़ किया जा रहा है जो बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। संघ के विभाग संगठन मंत्री प्रकाश माणम्या, जिला कोषाध्यक्ष परेश तिवाडी, मांडल उपशाखा अध्यक्ष सुबोध शर्मा, मंत्री रमेश बलाई, दिनेश जोशी उपस्थित थे। उल्लेनीय है कि फिल्म मेकर संजय लीला भंसाली केे अपनी फिल्म में रानी पदमावती के चरित्र को गलत तरीके से फिल्माने का लोगों ने विरोध किया है।

खबरें और भी हैं...