• Hindi News
  • National
  • मोड़क क्षेत्र में प्याज की बुआई में तेजी, दाम कम होने से रकबा घटा

मोड़क क्षेत्र में प्याज की बुआई में तेजी, दाम कम होने से रकबा घटा

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
क्षेत्रमें गर्मी के मौसम के देशी प्याज की रोपाई में तेजी गई है। कृषि पर्यवेक्षक के अनुसार क्षेत्र में पिछले वर्ष की तुलना में प्याज की आधी ही बुआई की जा रही है। पिछले वर्ष क्षेत्र में 120 हैक्टेयर में बुआई की गई थी।

इस वर्ष 50 से 60 हैक्टेयर में बुआई की जाएगी। बरसात के प्याज के दाम काफी कम रहने से किसानों का इससे मोहभंग हुआ है। किसानों ने बताया कि फसल में काफी लागत आती है। पिछले वर्ष गर्मी में तो प्याज के दाम ठीक थे, लेकिन अभी मंडियों में 5 रुपए किलो ही हैं। इससे बरसात की प्याज में काफी नुकसान हुआ है। वहीं अभी नोटबंदी के कारण भी मंडियों में कुछ दिन तो प्याज के खरीदार ही नहीं मिले थे। पीपल्दा के अमरलाल ने बताया कि गर्मी में प्याज की खपत बढ़ जाती है। दामों में भी कुछ इजाफा हो जाता है, इसी उम्म्मीद में फिर से प्याज खेत में लगा रहा हूं। प्याज की फसल को अप्रैल तक सिंचाई की जरूरत होती है। जनवरी के मध्य तक प्याज की बुआई की जा सकती है।

मोड़क स्टेशन. गर्मी के मौसम में आने वाली प्याज़ की फसल की बुआई इस समय क्षेत्र में तेजी से चल रही है। खेत में प्याज़ की रोपाई करते मजूदर।

खबरें और भी हैं...