पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • नक्सली इलाकों में जा रहे 59 ट्रेनी कोबरा कमांडो ट्रेन से भागे

नक्सली इलाकों में जा रहे 59 ट्रेनी कोबरा कमांडो ट्रेन से भागे

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बिहारके नक्सल प्रभावित इलाकों में पहली पोस्टिंग पर जा रहे 59 ट्रेनी कोबरा कमांडो ट्रेन से उतरकर भाग गए। इनमें से किसी के पास हथियार नहीं थे। घटना रविवार को मुगलसराय में हुई। कमांडोज की हरकत को अनधिकृत गैर-हाजिरी बताते हुए सीआरपीएफ ने कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी के आदेश दिए हैं।

नक्सल विरोधी कोबरा दस्ते के 59 ट्रेनी कमांडोज को श्रीनगर स्थित ट्रेनिंग सेंटर में पांच हफ्ते की बेसिक ट्रेनिंग दी गई थी। इनकी पहली तैनाती बिहार के नक्सल प्रभावित इलाकों में होनी थी। इन्हें बिहार के गया स्थित 205वीं कोबरा यूनिट में सोमवार को रिपोर्ट करना था। लेकिन रविवार को मुगलसराय स्टेशन पर सभी ट्रेन से उतर गए। ड्यूटी से भागकर कोई घर तो कोई अज्ञात जगह चला गया। साल 2011 में सीआरपीएफ में भर्ती हुए यह कमांडो कांस्टेबल रैंक के हैं। इनमें से ज्यादातर बिहार और उत्तरप्रदेश के रहने वाले हैं। बता दें कि नक्सली हिंसा और पूर्वोत्तर में उग्रवादियों से निपटने के लिए सीआरपीएफ में साल 2009 में कमांडो बटालियन फॉर रिजॉल्यूट एक्शन (कोबरा) गठित की गई थी।

{श्रीनगर में 5 हफ्ते की ट्रेनिंग के बाद बिहार में करनी थी रिपोर्ट

{कोई घर तो कोई अज्ञात जगह गया, सीआरपीएफ नेदिए कोर्टऑफ इन्क्वायरी के आदेश

ट्रेनर्स ने कुछ कमांडो से किया संपर्क, मंगलवार तक लौटने का वायदा

सीआरपीएफके अनुसार बिना अनुमति गए कुछ कमांडोज से उनके प्रशिक्षकों ने संपर्क किया है। इनमें से कुछ लोग मंगलवार तक लौटने की बात कह रहे हैं। अधिकारी अभी यह जांच कर रहे हैं कि एक साथ सभी 59 लोगों ने भागने का फैसला कैसे लिया।

खबरें और भी हैं...