पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • जीएसटी का विरोध : मार्बल व्यवसायी 21वें दिन भी धरने पर बैठे

जीएसटी का विरोध : मार्बल व्यवसायी 21वें दिन भी धरने पर बैठे

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
राजसमंद | केंद्रसरकार की ओर से मार्बल और ग्रेनाइट पर 28 प्रतिशत जीएसटी दर लगाने के विरोध में जिले के मार्बल और संबंधित व्यवसायों से जुड़े संगठनों ने आहूत आंदोलन के 21वें दिन शुक्रवार को भी धरना-प्रदर्शन जारी रहा। धरना स्थल पर व्यवसायियों ने जोरदार नारेबाजी करते हुए सरकार से मार्बल और ग्रेनाइट उद्योग तथा देश भर में इससे प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े करोड़ों लोगों के हित में शीघ्र सकारात्मक कदम उठाने की मांग की है।

कलेक्ट्रेट के समीप चल रहे धरना स्थल पर सुबह आठ बजे से ही मार्बल गैंगसा, माइन ऑनर्स, ग्रेनाइट, कटर ट्रेडर्स, ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन सहित संबंधित विभिन्न संगठनों से जुड़े व्यवसायियों का पहुंचना शुरू हो गया था। स्थानीय सहित केलवा, नाथद्वारा, आमेट आदि क्षेत्रों से बड़ी संख्या में व्यवसायी पहुंचे। दोपहर में धरना स्थल पर सभा हुई। सभा में मार्बल गैंगसा एसोसिएशन महासचिव रवि शर्मा ने बताया कि जीएसटी मुद्दे पर 24 जुलाई को वित्तमंत्री के साथ होने वाली विशेष बैठक में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व में प्रदेश के सभी सांसदों के अलावा तेलंगाना आदि प्रांतों के सांसद, अन्य जनप्रतिनिधि तथा लगभग सभी क्षेत्रों से मार्बल संगठनों के प्रतिनिधि शामिल होंगे। बैठक में 28 प्रतिशत जीएसटी से मार्बल ग्रेनाइट उद्योग पर पड़ने वाले दुष्प्रभावों और भावी दुष्परिणामों के बारे में तथ्यात्मक और व्यावहारिक जानकारी पेश की जाएगी। जीएसटी दर 5 प्रतिशत करने को लेकर प्रभावी ढंग से पक्ष रखा जाएगा। ग्रेनाइट एसोसिएशन अध्यक्ष शांतिलाल कोठारी, ट्रेडर्स एसोसिएशन अध्यक्ष गोविंद सनाढ्य, मदनलाल चौधरी आदि ने भी सभा को संबोधित करते हुए फिर दोहराया कि मांग पूरी नहीं होने तक आंदोलन जारी रहेगा।

इस दौरान मार्बल ट्रेडर्स एसोसिएशन वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजकुमार सोनी, सत्यनारायण पूर्बिया, हिम्मत कटारिया, पुष्कर पाटीदार, रमेश हरलालका, लक्ष्मीलाल इनाणी, अश्विन पाटनी, माधवलाल शर्मा, शांतिलाल तिवारी, नितिन शर्मा आदि थे। दूसरी ओर गैंगसा एसोसिएशन अध्यक्ष सत्यप्रकाश काबरा और कमल किशोर व्यास सहित प्रतिनिधि मंडल ने शुक्रवार को जयपुर जाकर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को ज्ञापन दिया। उन्होंने किशनगढ़, उदयपुर, चित्तौड़ सहित अन्य मार्बल मंडियों से आए मार्बल संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ शाह को ज्ञापन सौंपा। जिसमें मार्बल और ग्रेनाइट पर 28 फीसदी जीएसटी दर को बेतहाशा अधिक बताते हुए शीघ्र कम करने की मांग की गई।

राजसमंद. कलेक्ट्री के बाहर जीएसटी के विरोध में मार्बल व्यापारी अनशन पर बैठे हुए।

खबरें और भी हैं...