• Hindi News
  • National
  • पाटोत्सव में श्रद्धालुओं ने दी आहुतियां

पाटोत्सव में श्रद्धालुओं ने दी आहुतियां

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
क्षेत्रके शक्तिपीठ प्रसिद्ध आशापूर्णा मंदिर में गत छह दिनों से चल रहे पाटोत्सव समारोह के अंतर्गत सोमवार को दिनभर विभिन्न धार्मिक अनुष्ठानों का आयोजन किया। सुबह सवा पांच बजे आचार्य पंडित राधाकिशन व्यास पुरुषोत्तम छंगाणी के सानिध्य में षोडशोपचार विधि से पूजन कर अभिषेक किया तथा मंदिर के पुजारी नखतपुरी महाराज ने प्रतिमा पर स्वर्ण वर्क से सजावट कर देवी प्रतिमा पर स्वर्ण मुकुट चढ़ाया। इस अवसर पर हवनात्मक यज्ञ के साथ पांच दिवसीय शतचण्डी यज्ञ धार्मिक अनुष्ठानों की पूर्णाहुति की गई।

दिनभर दर्शनार्थियों की भीड़ के चलते यहां मेले जैसा माहौल हो गया। शाम के समय आरती के बाद प्रसादी का वितरण किया गया। पाटोत्सव के अवसर पर पूरे मंदिर परिसर, निज मंदिर के अंदर बाहर जोधपुर से आए ख्यातनाम कलाकारों ने आकर्षक सुगंधित पुष्पों से सजावट की।

इसी तरह मंदिर के पृष्ठ भाग, छत मंदिर के शिखर को आकर्षक रोशनी से सजाया गया। कस्बे सहित आसपास क्षेत्र के गांवों, जोधपुर, बीकानेर, जैसलमेर, फलोदी सहित कई जगहों से भारी संख्या में दर्शनार्थी यहां पहुंचे। श्रद्धालुओं ने मंदिर में दर्शन कर अमन, चैन, शांति खुशहाली के लिए प्रार्थना की।

खबरें और भी हैं...