• Hindi News
  • National
  • भीखोड़ाई मरुधरा ग्रामीण बैंक में अनियमितता पर रिकार्ड सीज

भीखोड़ाई मरुधरा ग्रामीण बैंक में अनियमितता पर रिकार्ड सीज

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जबबाड़ ही खेत को खाना शुरू कर दे तो फिर खेत की रक्षा कौन करेगा यह कहावत इन दिनों भीखोड़ाई में स्थित राजस्थान मरुधरा बैंक में कार्यरत शाखा प्रबंधक पर पूरी तरह से चरितार्थ होती दिखाई दे रही है। भीखोड़ाई बैंक में कार्यरत शाखा प्रबंधक पर नोट बदलने के दौरान अनियमितता को लेकर ग्रामीणों ने प्रधानमंत्री कार्यालय में शिकायत की थी। ग्रामीणों की शिकायत पर जैसलमेर से जांच अधिकारी महेन्द्र कुमार सुथार ने आरएमजीबी शाखा पहुंचकर जांच शुरू की। जांच के दौरान बैंक में कई अनियमितताएं पाई गई। जिसके चलते जांच अधिकारी ने आवश्यक रिकार्ड को सीजन कर लिया। वहीं जांच अधिकारी की खबर पाकर कई शिकायतकर्ता भी बैंक पहुंचे तथा जांच अधिकारी के सामने शाखा प्रबंधक पर हेराफेरी का आरोपी लगाते हुए निष्पक्ष जांच करने तथा शाखा प्रबंधक को हटाने की मांग की।

पोकरण (आंचलिक) भीखोड़ाई बैंक जांच के दौरान आए अधिकारी दस्तावेजों की सीज करते हुए

ग्रामीणों ने की कार्रवाई की मांग

जांचके लिए आए जांच अधिकारी को गुस्साए ग्रामीणों ने ज्ञापन सौंप शाखा प्रबंधक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। इस दौरान ग्रामीणों ने बताया कि बैंक में नोटबंदी के बाद के समस्त सीसीटीवी फुटेज की जांच करने के साथ ही पांच सौ, एक हजार के नोटों को कमीशन पर बदलने एवं आधार कार्ड के साथ खाली वाउचर पर करवाए गए हस्ताक्षर की जांच करने की भी मांग की। ज्ञापन देने वालों में सैणीदान, सरादीन खां, तेजूदान, बरकत खां, माधल खां, कोजे खां, इदरीस खां सहित दर्जनों ग्रामीण उपस्थित थे।

जितने दस्तावेज उससे कई अधिक नोट बदल दिए

हालही में नोटबंदी के दौरान आधार कार्ड के आधार पर पुराने नोट बदले जाते थे। जिसमें हुई हेराफेरी की शिकायत पर बैंक में जांच करने पहुंचे अधिकारी ने नोट बदलने का पूरा रिकार्ड मांगा। लेकिन पूरा रिकार्ड नहीं मिल पाया। ऐसे में जितने दस्तावेज मिले उससे कई अधिक नोट बदल दिए गए। जिस पर कार्रवाई करते हुए जांच अधिकारी ने दस्तावेजों को सीजन कर लिया।

^प्रधानमंत्री कार्यालय में ग्रामीणों ने शाखा प्रबंधक की शिकायत दर्ज करवाई। जिस पर जिला मुख्यालय कार्यालय में शिकायत पहुंची। शिकायत की जांच की गई अनयिमतताओं के संबंध में रिकार्ड को सीजन कर लिया गया है। महेन्द्रकुमार सुथार, जांच अधिकारी, आरएमजबी जैसलमेर

खबरें और भी हैं...