• Hindi News
  • National
  • स्वच्छता चौपाल में शौचालय बनाने का दिलाया संकल्प

स्वच्छता चौपाल में शौचालय बनाने का दिलाया संकल्प

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
खेरोटपंचायत में विकास अधिकारी अनिल पहाड़िया की अध्यक्षता में स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वच्छता चौपाल हुई। इसमें विकास अधिकारी पहाड़िया ने शौचालय की उपयोगिता को मान-मर्यादा से जोड़ते हुए, खुले में शौच से होने वाली बीमारियों के बारे में विस्तार से बताया और बुजुर्गों, महिलाओं आदि को खुले में शौच से होने वाली तकलीफों के बारे में बताया। साथ ही सस्ते शौचालय निर्माण के बारे में भी विस्तार से जानकारी दे कर घर-घर में शौचालय बनाने का संकल्प दिलाया। चौपाल में एसबीएम के जिला समन्वयक ने बच्चों को शौचालय के उपयोग के बारे में बताया। इससे पूर्व सभी डीआरजी की ओर से इवनिंग और मॉर्निंग फोलोअप करके लोगों को सीटियां बजाकर खुले में शौच करने से रोका गया। चौपाल से पूर्व ढोल बजाकर लोगों को खुले में शौच से होने वाली हानि के बारे में बताया। विकास अधिकारी बताया कि कलेक्टर नेहा गिरि निर्देशानुसार पंचायत समिति प्रतापगढ़ को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए प्रत्येक पंचायत के लिए एक-एक ब्लॉक स्तरीय अधिकारी, संबंधित पंचायत के प्रधानाचार्य को प्रभारी के रूप में नियुक्त किया गया है। इनके अधीन पंचायत स्तरीय सभी कर्मचारी गली, मोहल्लों में जागरूकता पैदा कर ग्राम पंचायतों को खुले में शौच मुक्त कराने के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं। ब्लॉक प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी के माध्यम से स्कूलों में निबंध, वाद-विवाद प्रतियोगिताएं करवा कर बच्चों के माध्यम से जागरूकता पैदा कर खुले में शौच से मुक्ति के प्रयास किए।

खुले में शौच मुक्त गांव के लिए किया आह्वान

पारसोला | निकटवर्तीआड़ पंचायत में स्वच्छ भारत अभियान को लेकर डीआरजी सदस्यों की टीम ने ग्रामीणों को खुले में शौच नहीं करने के लिए प्रेरित किया। रात में और तड़के गांव में पहुंचे डीआरजी सदस्यों ने ग्रामीणों को खुले में शौच से होने वाले नुकसान से अवगत कराया। ग्रामीणों ने शीघ्र ही सभी के घरो में शौचालय निर्माण कराने संकल्प लिया और गांव को स्वच्छ और सुंदर बनाने की बात कही। इस मौके पर डीआरजी सदस्य कीर्तेश पंचाल, रामचंद्र मीणा सहित कई ग्रामीण मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...