• Hindi News
  • Rajasthan
  • Rawala Mandi
  • सरप्लस पानी से पहले चरण की बंजर जमीन भी विकसित होगी, नया क्षेत्र खोलने का विचार नहीं

सरप्लस पानी से पहले चरण की बंजर जमीन भी विकसित होगी, नया क्षेत्र खोलने का विचार नहीं / सरप्लस पानी से पहले चरण की बंजर जमीन भी विकसित होगी, नया क्षेत्र खोलने का विचार नहीं

Bhaskar News Network

May 07, 2017, 06:15 AM IST

Rawala Mandi News - रावलामंडी में मंत्री बोले- ऐटा सिंगरासर आंदोलन के मुखिया बने नेता ने किसानों को गुमराह किया रावलामंडीमें...

सरप्लस पानी से पहले चरण की बंजर जमीन भी विकसित होगी, नया क्षेत्र खोलने का विचार नहीं
रावलामंडी में मंत्री बोले- ऐटा सिंगरासर आंदोलन के मुखिया बने नेता ने किसानों को गुमराह किया

रावलामंडीमें सिंचाईमंत्री ने किसानों से कहा कि वे पानी के नाम पर राजनीति करने वाले और झूठे सपने दिखाने वाले नेताओं से सावचेत रहें। उन्होंने बिना किसी का नाम लिए कहा कि ऐटा सिंगरासर माइनर में पानी देने के नाम पर आंदोलन का मुखिया बने एक नेता ने जिले में कई आंदोलन लड़कर किसानों को गुमराह ही किया है। सिंचाई मंत्री शनिवार को रावलामंडी में नए तहसील भवन का लोकार्पण कार्यक्रम में किसानों को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में विधायक राजेंद्र भादू, शिमला बावरी, जिला प्रमुख प्रियंका श्योराण, जिला उपप्रमुख सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

भास्कर संवाददाता| सूरतगढ़

जलसंसाधन मंत्री डॉ. रामप्रताप ने शनिवार को कानौर हेड नहरों की मरम्मत सफाई कार्य का निरीक्षण किया। विधायक राजेंद्र भादू ने मंत्री से कहा कि आईजीएनपी के कानौर हेड से डार्क जोन के 16 गांवों को सिंचाई पानी मिलता है तो क्षेत्र आबाद हो सकता है। विधायक ने सुझाव दिया कि सिंचाई पानी से वंचित दूर के गांवों में कृषि कनेक्शन देकर माइनरों से उनको जोड़ कर पानी उपलब्ध करवाया जाए तो प्रभावित किसान खुशहाल हो सकते हैं। बाद में मंत्री गांव कालूसर पहुंचे। यहां गांव कालूसर ऐटा के किसानों ने मंत्री से ऐटा-सिंगरासर माइनर का निर्माण की मांग की। सिंचाई मंत्री ने किसानों से कहा कि सरकार ने जो 1.81 लाख हेक्टेयर जमीन कमांड घोषित कर रखा है उसमें प्रथम द्वितीय चरण की वो जमीन शामिल है जो वर्षों से बंजर है। सरकार की मंशा पहले बंजर जमीन को डवलप करना है। इसमें सेम प्रभावित बड़ोपल क्षेत्र जहां जमीन ऊंची है पानी से वंचित है उसे लिफ्ट कर पानी देना है। अतिरिक्त पानी से कोई नया क्षेत्र नहीं खोला जाएगा। नहरों में पानी तलाशने के लिए गठित उच्चस्तरीय कमेटी की 8 मई को रिपोर्ट देखने के बाद यदि पानी अतिरिक्त हुआ तो सीएम से मिल कर माइनर को पानी दिलवाने के प्रयास करेंगे। इसमें समय लग सकता है।

X
सरप्लस पानी से पहले चरण की बंजर जमीन भी विकसित होगी, नया क्षेत्र खोलने का विचार नहीं
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543