पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • खरीफ पकाव और रबी बिजाई के लिए सिंचाई पानी नहीं मिला तो बर्बाद हो जाएंगी फसलें

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खरीफ पकाव और रबी बिजाई के लिए सिंचाई पानी नहीं मिला तो बर्बाद हो जाएंगी फसलें

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिला कांग्रेस कमेटी ने पंजाब में नहर का निरीक्षण कर कहा-रबी फसल में तो दिया जाए पूरा पानी

और इधर, 15 सालों से बंद गंगकैनाल लिंक चैनल को रिचार्ज करने की तैयारी

इंदिरागांधी नहर के प्रथम चरण की अनूपगढ़ शाखा सहित अन्य नहरों में 17 सितंबर से जारी होने वाले सिंचाई पानी के रेगुलेशन में बदलाव करने की मांग करते हुए किसानों ने दो ग्रुप में पानी देने की मांग की है। सोमवार को बिश्नोई धर्मशाला में किसान मजदूर व्यापारी संघर्ष समिति इलाके के किसानों की हुई बैठक में दो ग्रुप के पानी की मांग करते हुए किसानों ने कहा है कि अक्टूबर में रबी की बिजाई शुरू हो जाती है। वहीं मौजूदा खरीफ के पकाव का भी यही समय है। ऐसे में दोनों फसलों को बचाने के लिए दो ग्रुप में पानी दिया जाना जरूरी है। समिति अध्यक्ष हनुमान कड़वासरा, प्रवक्ता महेंद्र तरड़ के अलावा व्यापार मंडल अध्यक्ष रामकुमार सिहाग, भारत विकास परिषद् अध्यक्ष लालचंद भादू, भाजपा विधि प्रकोष्ठ जिला अध्यक्ष एडवोकेट सुमेश बिश्नोई, जीव रक्षा समिति अध्यक्ष सुभाष भादू के अलावा इलाका के किसानों ने कहा है कि डेम में पानी का पूरा भराव नहीं होने के बावजूद वसुंधरा सरकार सिंचाई मंत्री डॉ. रामप्रताप की सूझबूझ से प्रथम चरण में किसानों को अभी तक पूरा पानी मिल रहा है। किसानों ने आगामी रबी बिजाई के समय दो ग्रुप में पानी देने की मांग करते हुए कहा है कि एक माह के लिए दो ग्रुप में पानी नहीं मिला तो खरीफ की पकाव कर रही फसल के अलावा रबी की बिजाई पर विपरीत असर पड़ेगा।

निरीक्षण करते हुए कांग्रेसी नेता।

हरिके पर गेटों से बढ़ा खतरा

सोमवारको पार्टी सदस्यों ने हरिके हैड के गेटों का निरीक्षण किया। यहां आज भी गेटों की हालत में कोई बदलाव नहीं आया। पाकिस्तान की ओर पानी जा रहा है। ड्यूटी कर रहे ग्रीसर सुबेगसिंह ने बताया कि गेटों की ट्रालियां टूट चुकी हैं। पिछले दिनों गेट नंबर आठ ऊंचा उठाकर पानी नदी में खुला छोड़ा, लेकिन गेट बंद करते समय अटक गया। गेटों के चैनल बदलने वाले हैं, सीलें खराब पड़ी हैं, इससे गेट ऊपर-नीचे नहीं उठाए जा सकते। कांग्रेस के शिष्टमंडल ने पंजाब के अधिकारियों से राजस्थान की नहरों को मिल रहे पानी की जानकारी ली। फिरोजपुर फीडर में दोपहर 12 बजे 10070 क्यूसेक पानी था, इसके बावजूद गंगनहर में खखां हैड पर पूरा नहीं मिलने पर आक्रोश जताया।

2002 तक पानी प्रवाहित हुआ था लिंक चैनल में

सिंचाईविभाग के सूत्रों के अनुसार इस लिंक चैनल का निर्माण करीब 1990 में पूरा करवाकर वर्ष 2002 तक पानी प्रवाहित किया गया था। इस अवधि के दौरान बीकानेर कैनाल की बुर्जी नंबर जीरो से 468 तक को पक्का करने का कार्य संपन्न करवाया गया था। इसके बाद से नहर बंद पड़ी है।

इनगांवों के किसानों को होगा फायदा

सरपंचयूनियन के पूर्व अध्यक्ष पालाराम, प्रमुख किसान सुखदेव सिंह ढिल्लों करड़वाला के अनुसार, लिंक चैनल क्षेत्र में गांव मालारामपुरा, धींगतानिया, नूरपुरा, अलीपुरा, करड़वाला, गद्दरखेड़ा, पतली, चमारखेड़ा, हाकमाबाद, दलियांवाली, भागसर, बनवाली, चकमहाराजका, साधुवाली, अबोहरिया के किसानों को फायदा मिलेगा।

^सिंचाई मंत्री के निर्देशानुसार चैनल की साफ-सफाई कर मरम्मत करवाई जा रही है। चैनल अतिक्रमणों से भी सुरक्षित रहे। नरेशकुमार, एईएन, सिंचाई विभाग

सादुलशहर. खाली पड़ी गंग कैनाल लिंक चैनल।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी भी लक्ष्य को अपने परिश्रम द्वारा हासिल करने में सक्षम रहेंगे। तथा ऊर्जा और आत्मविश्वास से परिपूर्ण दिन व्यतीत होगा। किसी शुभचिंतक का आशीर्वाद तथा शुभकामनाएं आपके लिए वरदान साबित होंगी। ...

    और पढ़ें