पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे रेहड़ी संचालक नगरपालिका ने दूसरे दिन भी हटाए अतिक्रमण

अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे रेहड़ी संचालक नगरपालिका ने दूसरे दिन भी हटाए अतिक्रमण

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पालिकाकर्मियों ने खोखे अन्य सामान किया जब्त, पुलिस जाब्ता भी तैनात रहा

अतिक्रमणहटाओ अभियान के चलते सब्जी, फल एवं अन्य सामान के रेहड़ी संचालकों ने शुक्रवार से एसडीएम कार्यालय के समक्ष अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया। सीएम के नाम एसडीएम को सौंपे ज्ञापन में रेहड़ी संचालकों ने समुचित स्थान उपलब्ध करवाने की मांग करते हुए बताया कि रामलीला मैदान के पास गत 35 वर्षों से रेहडिय़ा लगाकर मजदूर वर्ग के लोग अपना परिवार पाल रहे है। अब नगरपालिका ने रेहडिय़ा हटवा दी। ज्ञापन में रोजगार एवं पुनर्वास के लिए समुचित स्थान उपलब्ध नहीं करवाने पर 24 जुलाई से कार्यालय के समक्ष परिवार बच्चों सहित आमरण अनशन की चेतावनी भी दी है। ज्ञापन की प्रति स्वायत शासन मंत्री, कृषि मंत्री एवं कलेक्टर को भी प्रेषित की गई है। इससे पूर्व धरना स्थल पर हुई सभा में वक्ताओं ने पालिका पर भेदभाव का आरोप लगाते हुए कहा कि पालिका प्रशासन जानबूझ कर उच्च न्यायालय के आदेशों की अवहेलना कर रहा है। धरना प्रदर्शन में स्टेट वेंडर एसोसिएशन अध्यक्ष छोटू खां, विष्णु सैनी, मुन्ना माली, राजू सोनी, गोपीराम, दीपक गुप्ता, पवन कुमार, ओमप्रकाश आदि मौजूद रहे।

रावतसर. नगरपालिका के सामने धरने पर बैठे रेहड़ी संचालक।

खबरें और भी हैं...