पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • क्रेन का बूम वजनी स्टील गिरने से श्रमिक की मौत

क्रेन का बूम वजनी स्टील गिरने से श्रमिक की मौत

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भाई के साथ पीहर जा रही महिला को ट्रक ने कुचला

रावतभाटा. राजस्थानपरमाणु विद्युत परियोजना की 7वीं 8वीं इकाई में कार्यरत मुख्य सिविल निर्माण कंपनी एचसीसी के स्टील यार्ड में स्टील मटेरियल उठाने वाली टावर क्रेन का बूम और वजनी स्टील गिरने से गुरुवार को सुबह 35 वर्षीय श्रमिक जीतासिंह की मौत हो गई। जबकि 30 वर्षीय श्रमिक राहुल को मामूली चोट आई, जिसके बाद उसे कोटा रैफर किया गया। मृतक श्रमिक पंजाब के जालंधर के कुंदवाला गांव का रहने वाला है। शव का पोस्टमार्टम कर शव को पंजाब भेज दिया गया है। परमाणु विद्युत परियोजना के परियोजना निदेशक बीसीपाठक ने बताया कि घटना किन कारणों से हुई और कौन जिम्मेदार है, इसकी जांच शुरू कर दी है। वहीं इस मामले की अाणविक ऊर्जा नियामक बोर्ड की टीम भी जांच करने रावतभाटा रही है। पुलिस के अनुसार गुरुवार सुबह 10 बजे परियोजना स्थल पर एचसीसी कंपनी के स्टील यार्ड में क्रेन से स्टील लोड किया जा रहा था कि अचानक टावर क्रेन का बूमबेंड हो गया और असंतुलित होकर नीचे खड़े श्रमिक जीतासिंह के ऊपर गिर गया, जिसमें नीचे श्रमिक दब गया। श्रमिक के उपर स्टील को एक दूसरी क्रेन से हटाया गया। उसे परमाणु बिजलीघर अस्पताल ले जाया गया। जहां पर उसे मृतघोषित कर दिया गया। मृतक एचसीसी के पेटी कांट्रेक्टर ठेकेदार सुखदेव का श्रमिक है। घटना के बाद अस्पताल में अतिरिक्त मुख्य निर्माण अभियंता जेेकेजैन, संरक्षा अनुभाग के अधिकारी और एचसीसी के अधिकारी पहुंच गए थे।

काशगुरुनानक जयंती पर छुट्‌टी रखते: मृतकश्रमिक पंजाब का रहने वाला है और गुरुनानक जयंती पर छुटटी रखते हैं, लेकिन ओवरटाइम के लिए दोपहर 12 बजे तक काम करने का निर्णय लिया था और इसमें हादसा हो गया।

मिलेगामुआवजा: परियोजनानिदेशक बीसी पाठक ने बताया कि मृतक श्रमिक को जो भी नियमानुसार मुआवजा बनता है वह एचसीसी कंपनी श्रम विभाग के माध्यम से मृतक कर्मचारी के परिजनों को देगी।

ट्रेनकी चपेट में आया अज्ञात

रामगंजमंडी.शहरमें गुरुवार सुबह ट्रेन की चपेट में आने से अज्ञात व्यक्ति की मृत्यु हो गई। पुलिस के अनुसार साधु जैसे कपड़े पहने अज्ञात व्यक्ति सुबह करीब छह बजे अप लाइन पर ट्रेन की चपेट में गया, जिससे उसकी मृत्यु हो गई। शाम तक भी उसकी शिनाख्त नहीं हो सकी। ऐसे में शव मोर्चरी में रखवाया गया है। मृतक की उम्र करीब 40 वर्ष है।

रावतभाटा। क्रेन के बू