• Hindi News
  • National
  • नाबालिग से बलात्कार के आरोपी 20 दिन बाद भी पुलिस गिरफ्त से दूर

नाबालिग से बलात्कार के आरोपी 20 दिन बाद भी पुलिस गिरफ्त से दूर

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बजिरयासीमेंट फैक्ट्री क्षेत्र में रहने वाले एक हरिजन परिवार की नाबालिग बालिका से बलात्कार की घटना के बाद से पीड़ित और उसका परिवार न्याय के लिए दर-दर भटक रहा है। कभी थाने में तो कभी अधिकारियों के पास, लेकिन उनको न्याय नहीं मिल रहा है। पुलिस जांच, 164 के बयान एवं मेडिकल हो चुका है, लेकिन पुलिस आरोपियों को 20 दिन बाद भी गिरफ्तार नहीं कर पाई है। इस बारे में पीड़िता एवं उसके परिजनों ने बताया कि घटना की शाम घर पर अकेली लड़की देख कर आरोपी जोन पुत्र चिरंजी उर्फ बळया निवासी सीमेंट फैक्ट्री ने मौके का फायदा उठाया और घर के मुख्य गेट पर ताला लगा कर पीछे से घर में घुसा और हाथ पैर बांध कर बलात्कार किया। इसी दौरान उसका भाई घर पर पहुंच गया और उसने उसे छुड़ाया। उसके भाई के आने के बाद आरोपी के दूसरे भाई भी मौके पर पहुंच गए और पीड़िता और उसके भाई से मारपीट की।

नहीं मिल रहे हैं आरोपी

^बालिकाके थाने पर दर्ज बयानों में उसने बलात्कार की बात कही है। इन बयानों के आधार पर अब आरोपियों की गिरफ्तारी की जानी है। अभी हमें आरोपी नहीं मिल रहे हैं। जहां तक बालिका का सवाल है उसने नाबालिग होने के प्रमाण प्रस्तुत किए हंै। दूसरी तरफ बच्ची के कपड़ों को एफएसएल जांच के लिए भेजा जाना बाकी है। बलात्कार के आरोपी की गिरफ्तारी के बाद ही उसके सैम्पल लेकर बालिका के कपड़ों के साथ जांच के लिए लैब में भेजे जाएंगे। मदनलाल,प्रभारी, महिला थाना

हो चुके हैं बयान

इसमामले में पीड़िता के बयान न्यायालय में कलमबंद किया जा चुके हैं। पीड़िता अपने बयानों में पूरी घटना की जानकारी दे चुकी है। इस नाबालिग की बातों एवं मानसिक स्तर से न्यायालय ने संतुष्टि प्रकट की है। इसके बाद उक्त बयान की प्रति न्यायालय द्वारा पुलिस को भी उपलब्ध करवाई दी गई है। घटना के बाद परिजनों ने एफआईआर के साथ ही बच्ची के कपड़े भी थाने पर जमा करवा दिए गए। जिन की एफएसएल रिपोर्ट आना बाकी है।

धमकारहे हैं आरोपी

बालिकाके परिजनों का कहना है कि इस घटना के बाद जब उन्होंने न्याय के लिए पुलिस एवं न्यायालय के दरवाजे पर दस्तक दी। तभी से उक्त लोग उनको धमका रहे हैं। रात दिन घर के सामने आते हैं और हर प्रकार से धमका कर मुकदमा वापस लेने के लिए कहते हैं। दूसरी तरफ पुलिस इस मामले में कोई गंभीरता नहीं दिखा रही है। आरोपी एवं उसके साथ हमला करने वाले लोग आज भी फैक्ट्री क्षेत्र में घूम रहे हैं और पुलिस कह रही है कि हमलावर एवं बलात्कार का आरोपी नहीं मिल रहा है। एएसपी, डीएसपी एवं एसएचओ को हालातों से अवगत करवा चुके हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

खबरें और भी हैं...