• Hindi News
  • National
  • जिले में तीन दिन चलेगा बाल वाहिनियों की जांच का अभियान, शिक्षा विभाग की कमेटी करेगी जांच

जिले में तीन दिन चलेगा बाल वाहिनियों की जांच का अभियान, शिक्षा विभाग की कमेटी करेगी जांच

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज | सीकरी/भरतपुर

सीकरीके गांव रामसिंहपुर पालकी में स्कूल बस पलटने से एक बच्चे की मौत 23 के घायल होने की घटना के बाद परिवहन विभाग ने तीन दिन तक जिले में अभियान का निर्णय लिया है। इसके लिए जिले में सक्रिय सात उड़नदस्ता प्रभारियों को आदेश निकाल कर 16 जुलाई तक एक-एक स्कूल में जाकर बाल वाहिनियों की जांच कर रिपोर्ट डीटीओ को प्रस्तुत करने को कहा है। इस संबंध में आरटीओ नानूराम चोयल ने आदेश निकाले हैं। वहीं हादसे की जांच शिक्षा विभाग की एक कमेटी करेगी। जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक कैलाश यादव शुक्रवार को बेर्रु के श्याम विद्या मंदिर उच्च माध्यमिक विद्यालय पंहुचे। उन्होंने बताया कि यह विद्यालय बंद मिला। इसके बाद सरपंच के साथ हादसे में मृतक बालक अमित के घर गए और उसके परिजनों को सांत्वना दी।

उन्होंने भरोसा दिलाया कि इस मामले की विभागीय जांच करवाकर कार्रवाई की जाएगी। नियमानुसार सहायता दिलाई जाएगी। डीईओ ने बताया कि इस मामले की जांच के लिए एक कमेटी का गठन किया जाएगा। प्रथम दृष्ट्या पता चला है कि विद्यालय प्रबंधन ने यहां पढ़ने वाले बच्चों का बीमा भी नहीं कराया। जबकि यह जरूरी है। इसके अलावा वे एक ऐसी नीति तैयार कर रहे है कि आगे ऐसे हादसे नहीं हो। सभी विद्यालयों के वाहनों की जांच कराई जाएगी। उधर एसडीएम चिम्मन लाल मीणा ने भी बीईईओ को उपखंड के सभी शिक्षण संस्थानों के वाहनों की जांच करने और मापदंडों को पूरे नहीं करने वाले शिक्षण संस्थानों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। उधर, आरटीओ ने अपने आदेश में उल्लेख किया है बाल वाहिनियां बगैर फिटनेस, बीमा अन्य नियमों की पूर्ति किए बगैर संचालित होने की बात सामने आई है। ऐसे में उड़नदस्ता प्रत्येक स्कूल में जाकर जांच करेगा कि कितनी स्कूल बस संचालित है। हर बस के कागजातों की जांच कर उनकी सूची बनाई जाएगी। साथ ही कमियां मिलने पर मौके पर ही स्कूल बस को जब्त किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...