पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • जिन स्कूलों में शिक्षक नहीं हैं वहां डिजिटल एजुकेशन व्यवस्था शुरू की जाएगी: हाड़ा

जिन स्कूलों में शिक्षक नहीं हैं वहां डिजिटल एजुकेशन व्यवस्था शुरू की जाएगी: हाड़ा

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कस्बेके राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में शुक्रवार को जिला स्तरीय वाकपीठ का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि जिला प्रमुख शक्तिसिंह हाड़ा थे। अध्यक्षता उप प्रधान बजरंगसिंह राणावत ने की। विशिष्ट अतिथि भाजपा मंडल अध्यक्ष रामप्रसाद चौधरी, भाजपा के वरिष्ठ नेता रामधन चौधरी, युवा मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष सुरेंद्र सिंह राठौड़, अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी जग जितेंद्र सिंह, रमसा के एडीपीसी योगेश पारीक थे। वाकपीठ में जिले के 327 विद्यालयों के संस्था प्रधान भाग ले रहे हैं। समापन 22 जुलाई को होगा।

जिला प्रमुख हाड़ा ने कहा कि जिले में जिन स्कूलों में शिक्षकों की कमी है। ऐसे स्कूलों का समूह बनाकर वहां पर डिजिटल एजुकेशन सिस्टम से पढ़ाई कराई जाएगी। यह नवाचार भीलवाड़ा जिले में करना चाहते हैं। इसी सत्र में इसको साकार रूप देने का प्रयास किया जाएगा। जिससे स्कूलों में तालाबंदी की समस्या समाप्त होगी। आयोजक विद्यालय के प्रधानाचार्य वाकपीठ के अध्यक्ष शंकरलाल जोशी ने आभार जताया। नोडल प्रधानाचार्य पवन बांगड़ ने स्वागत किया। संचालन प्रधानाचार्य कन्हैयालाल मोची ने किया।

आसींद में दो दिवसीय वाकपीठ शुरू

आसींद | संस्थाप्रधानों की दो दिवसीय वाकपीठ शुक्रवार को अमृत भारती माध्यमिक विद्यालय के महाप्रज्ञ भवन में बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय के तत्वावधान में शुरू हुई। एसडीएम बलवंत सिंह लिग्री ने कहा कि आपके प्रयासों से ही मनुष्य में संस्कृति आती है। तभी वह महान बनता है। स्कूल में बच्चा कोरे कागज के रूप में आपके पास आता है। आप उसे जिस धारा में दिशा देना चाहते हैं, दे सकते हैं। अध्यक्षता नगर पालिका चेयरमैन कैलाशी देवी खटीक ने की। डीईओ अनोप सिंह सिसोदिया ने एसडीएम से कहा कि आप हमारी बात सरकार तक पहुंचाएं। संस्था प्रधान श्याम सुंदर भट्ट, सुबोध कुमार शर्मा ने प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम किया। प्रधानाचार्य बृजराज, राजेंद्र कुमार शर्मा, शंकरलाल माली ने जानकारी दी। संस्था प्रधान मीना प्रतिहार गणेशलाल मेहता ने अतिथियों का स्वागत किया। इस मौके पर भाजपा जिला महामंत्री डालचंद साहू, महामंत्री हीरा लाल गुर्जर, प्रहलाद राय शर्मा, सत्यनारायण टेलर, सत्यनारायण छीपा, देवी सिंह सांचौरा, महावीर शर्मा, विजय पाल वर्मा,अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी श्यामलाल सांगावत, डॉ. शंकर लाल माली मौजूद थे।

सोशल मीडिया से जुड़ें संस्था प्रधान

उपप्रधान बजरंग सिंह राणावत ने कहा कि सोशल मीडिया का दौर है। गांवों के स्कूलों की स्थिति है, वहां क्या समस्या है तथा ग्रामीणों की सहभागिता से वहां पर क्या समाधान किए गए, इन सबका लेखा-जोखा सोशल मीडिया पर संस्था प्रधानों को देना चाहिए। इससे समस्या होने पर समाधान हो सकेगा।

शाहपुरा . वाकपीठ के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते जिला प्रमुख शक्तिसिंह हाड़ा।

खबरें और भी हैं...