पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • पेशेवर दाई है नर्सिंग होम की संचालिका, कोई डिग्री भी नहीं

पेशेवर दाई है नर्सिंग होम की संचालिका, कोई डिग्री भी नहीं

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर संवाददाता | सिद्धमुख

भ्रूणलिंग जांच एवं गर्भपात कराने के मामले में आरोपी सिद्धमुख के नर्सिंग होम की संचालिका हिसार के दलाल को हरियाणा कोर्ट के आदेश पर शुक्रवार को जेल भेजा।

रिमांड के दौरान पूछताछ में पूिनया नर्सिंग होम संचालक सरोज पूनिया ने बताया कि वह पेशेवर दाई है और पिछले 12 वर्षो से डिलीवरी के अलावा केस आने पर गर्भपात भी करवाती रही है। उसके पास कोई मेडिकल डिग्री नही है। नर्सिग होम संचालित करने पर लोग उन्हे डॉ. कहने लगे थे, जिसके चलते नाम के आगे डॉक्टर लगा लेती हूं। अब तक कितने गर्भपात करवाए, इसका कोई रिकार्ड नहीं है। दलाल सुनील की डॉक्टर के साथ मिलीभगत थी। वह ग्राहक तलाशकर मोटी रकम वसूलकर गर्भपात के लिए नर्सिंग होम में लाता था। उसने दलाल ने पुलिस पूछताछ में अब तक चार महिलाओं के गर्भपात करवाने की बात स्वीकारी है।

ये था मामला

गत18 जुलाई को हिसार पुलिस ने कस्बे की पूनिया नर्सिंग होम पर छापा मारकर वहां गर्भपात करवाने के मामले में संचालिका सरोज पूनिया को गिरफ्तार किया था। नर्सिंग संचालिका सरोज ने मंगलवार को दो महिलाओं का गर्भपात करवाया था। इसके बाद हरियाणा पुलिस ने कार्रवाई करते हुए उसे गिरफ्तार कर ले गई थी।

दलाल सुनील के साथ नर्सिंग होम में आकर गर्भपात करवाने वाली महिलाएं और उनके साथ आए पुरुषों पर भी पुलिस की कार्रवाई करेगी। दलाल से पूछकर उनकी पहचान कर ली है और जल्द ही उनकी गिरफ्तारी होगी। इन दोनों महिलाओं में एक तो रायपुर हिसार की है दूसरी भिवानी की रहने वाली है। महिलाओं के साथ गए पुरुषों को उनका पति बताया जा रहा।

कॉलडिटेल से भी ली जाएगी जानकारी : सिविलथाना हिसार के थानाधिकारी मंदीप सांगवान ने बताया कि आरोपियांे के फोन जब्त कर लिए गए है। उनकी कॉल डिटेल निकलवाई है। इसके बाद फोन पर हुई बातचीत की जानकारी जुटाई जाएगी। उसके बाद कॉल डिटेल से मामले की जांच की जाएगी।

टैक्सी मालिक और चालक का हरियाणा में होगा सम्मान

गर्भपातकराने का पर्दाफाश टैक्सी चालक विजेंद्र मालिक विजय नेहरा ने किया था। विजेंद्र नेहरा से दलाल सुनील से गाड़ी किराए पर ली थी। दोनों महिलाओं को गर्भपात के लिए सिद्धमुख में लाया गया। गर्भपात में देरी होने पर चालक ने कारण पूछा तो दलाल ने बताया कि इनको गर्भपात करवाने के लिए यहां पर लाया गया है। इस पर विजय ने यह बात नेहरा को बताई। नेहरा ने स्वास्थ्य विभाग को इसकी सूचना दी। स्वास्थ्य विभाग ने दलाल सुनील को गिरफ्तार कर इस मामले का पर्दाफाश किया था। इस संबंध में हरियाणा का प्रशासन टैक्सी चालक मालिक को सम्मानित भी करेगा।

खबरें और भी हैं...