• Hindi News
  • National
  • तीसरे दिन भी नहीं उठाया नवजात का शव, बंद रहा जावाल कस्बा

तीसरे दिन भी नहीं उठाया नवजात का शव, बंद रहा जावाल कस्बा

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
डॉक्टर्स नर्सिंगकर्मियों ने की एफआईआर निरस्त की मांग, सौंपा ज्ञापन

जनाना अस्पताल में प्रसव के दौरान नवजात की डस्टबिन में गिरने से मौत का मामला

भास्करन्यूज | सिरोही

जनानाअस्पताल में बुधवार रात को प्रसव के दौरान नवजात के डस्टबिन में गिरने से मौत के मामले में परिजनों ने शुक्रवार को तीसरे दिन भी शव लेने से मना कर दिया। एफआईआर दर्ज होने वाले डॉक्टर नर्सिंग स्टाफ को अस्पताल और एफआईआर की कॉपी नहीं देने वाले कोतवाली थाने के सीआई को हटाने की मांग को लेकर शुक्रवार को जावाल बंद रहा। परिजनों ग्रामीणों ने जावाल बस स्टैंड पर धरना प्रदर्शन किया। जावाल बंद के आह्वान पर दुकानदारों ने दोपहर तक अपने प्रतिष्ठान बंद रखें। इधर, धरना प्रदर्शन कर रहे लोगों के भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी के जालोर जाने के दौरान घेराव की सूचना पर शेष|पेज17

उन्होंनेअपना रूट बदल दिया। वे कालंद्री के रास्ते होकर जालोर गए। जिस पर ग्रामीणों ने प्रदेशाध्यक्ष के नाम का ज्ञापन थानाधिकारी को सौंपा। ज्ञापन में बताया कि डिलेवरी में लापरवाही बरतने वाले डॉ. निहालसिंह, नर्स पंकज चारण सिलवी को जनाना अस्पताल और सीआई प्रेमाराम चौधरी को कोतवाली थाने से हटाया जाएं।

इधर, सरकारी अस्पताल के डॉक्टर्स नर्सिंग स्टाफ ने एडीएम जवाहर चौधरी को ज्ञापन सौंप कर डॉ.निहालसिंह मीना दो नर्सिंग कर्मियों के खिलाफ दर्ज गैर इरादतन हत्या के मामले को निरस्त कराने की मांग की है। अखिल राजस्थान सेवारत चिकित्सक संघ के जिलाध्यक्ष डॉ. दिनेश शर्मा एवं राजस्थान नर्सेज एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष देवीसिंह चौहान के नेतृत्व में सौंपे ज्ञापन में बताया कि जनाना अस्पताल के लेबर रूम में हुई घटना में डॉ. निहालसिंह मीना एवं नर्सिंगकर्मियों के खिलाफ लापरवाही शेष|पेज17

काबेबुनियाद आरोप लगाकर दर्ज की गई गैर इरादतन हत्या की एफआईआर न्याय संगत नहीं है। डॉक्टर ने महिला की जांच कर बताया था कि शिशु की धड़कन कम होने की वजह से उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है एवं जान को खतरा होने के बारे में परिजनों को समझाकर लिखित में सहमति ली थी। ऐसे में दर्ज एफआईआर न्याय संगत नहीं है। इस मौके डॉ. मोहनलाल निठारवाल, डॉ. वीरेंद्र महात्मा, डॉ. प्रदीप चौहान, देवीसिंह चौहान, मदनसिंह इंदा, प्रदीप सिंदल, पवन शर्मा आदि डॉक्टर्स नर्सिंग स्टाफ मौजूद रहा।

खबरें और भी हैं...