पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • ‘किसान संघ गैर राजनैतिक संगठन’

‘किसान संघ गैर राजनैतिक संगठन’

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भारतीयकिसान संघ के प्रदेशाध्यक्ष मणिलाल लबाना ने शुक्रवार को सिवाना उपखंड क्षेत्र का दौरा कर संघ के सदस्यता अभियान को लेकर उपखंड मुख्यालय पर स्थानीय संघ प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर अभियान का फीड बैक लिया।

उन्होंने बैठक को संबोधित करते हुए कहा की भारतीय किसान संघ किसानों का, किसानों के लिए गैर राजनैतिक संगठन है। जो किसान के हित में उनके सर्वांगीण विकास के लिए सोचता है। सबके विचारों पर मंथन कर निर्णय लिया जाता है। उन्होंने ज्यादा से ज्यादा किसानों को संघ से जोड़कर संगठन का विस्तार करने संगठित होकर रचनात्मक कार्य समान भाव से करने का आह्वान किया। उन्होंने खेती कार्यों में अधिक आय वाली पैदावार लेने उत्तम खेती की ओर अग्रसर होने के लिए जैविक खेती अपनाने की अपील की।

लबाना ने कहा कि किसानों की समस्याओं के लिए संघ लगातार संघर्ष करता रहा है आगे भी करता रहेगा। सरकार की ओर से हाल ही में बढ़ाई गई बिजली दरों का भारी विरोध जताते हुए कहा कि संघ की ओर से प्रदेश स्तर पर सरकार को बढ़ाई गई बिजली दरें वापिस लेने काे कहा गया है। यदि सरकार आगामी माह में बढ़ी हुई बिजली दरों से बिजली बिल किसानों को देती है तो प्रदेश का कोई किसान बिल का भुगतान नहीं करेगा तथा संघ प्रदेश स्तर पर आंदोलन करेगा। उन्होंने भूमि अधिग्रहण कानून लाए जाने का भी भारी विरोध करते हुए कहा कि किसानों की भूमि सरकार कौड़ियों में खरीद कर करोड़ों में बेचना चाहती है। जिसका भा.कि. संघ पुरजोर विरोध करेगी। स्थानीय संघ के तहसील अध्यक्ष कानसिंह खींची ने प्रदेश अध्यक्ष को किसानों की विभिन्न समस्याओं से अवगत करवाते हुआ कहा की वर्तमान में डिस्कॉम की ओर से बकाया बिजली बिल के नाम पर किसानों के कृषि कनेक्शन काट कर ट्रांसफार्मर ले जाए जा रहे हैं। जबकि किसानों के खेतों में रबी की फसलें खड़ी है। उन्होंने बकाया भुगतान का पार्ट पेमेंट की व्यवस्था करवाने की मांग की।

सिवाना. भाकिसं के प्रतिनिधियों की बैठक लेते प्रदेशाध्यक्ष।