• Hindi News
  • Rajya
  • Rajasthan
  • Sojat
  • बकरी चराने पर विवाद, दो परिवारों में झगड़ा, वृद्ध की मौत, 8 घायल

बकरी चराने पर विवाद, दो परिवारों में झगड़ा, वृद्ध की मौत, 8 घायल / बकरी चराने पर विवाद, दो परिवारों में झगड़ा, वृद्ध की मौत, 8 घायल

Sojat News - भास्करसंवाददाता | पाली बगड़ीथाना क्षेत्र में बींजागुड़ा गांव के निकट पोकरियों की ढाणी में शुक्रवार रात दो...

Bhaskar News Network

May 21, 2017, 07:00 AM IST
बकरी चराने पर विवाद, दो परिवारों में झगड़ा, वृद्ध की मौत, 8 घायल
भास्करसंवाददाता | पाली

बगड़ीथाना क्षेत्र में बींजागुड़ा गांव के निकट पोकरियों की ढाणी में शुक्रवार रात दो परिवारों के बीच खूनी संघर्ष में खेतसिंह रावत (65) की मौत हो गई, जबकि उसकी प|ी, पुत्र पुत्री समेत पांच लोग घायल हो गए। दूसरे पक्ष के कालूसिंह रावत समेत तीन लोग भी घायल हैं। पुलिस का कहना है खेतसिंह रावत का अपने पड़ोसी कालूसिंह रावत से काफी समय से विवाद चल रहा है, जिसके चलते दोनों परिवारों में रंजिश चल रही है। शुक्रवार को दिन में खेत में बकरियां चराने तथा पेड़ की शेष|पेज16

3



टहनियां काटने की बात को लेकर भी विवाद हुआ था। इसके बाद रात 8 बजे दोनों पक्षों के लोग फिर से भिड़ गए, जिनमें लाठी-भाटा अन्य हथियारों का इस्तेमाल हुआ। मृतक का शनिवार शाम अंतिम संस्कार करवा दिया गया, जबकि घायलों का सोजत बगड़ी में पुलिस संरक्षण में उपचार चल रहा है। पुलिस ने हत्या के आरोप में कुछ आरोपियों को हिरासत में लिया है।

शेष|पेज16

छोटी-छोटीबात पर अक्सर झगड़ते रहे दोनों परिवार

बगड़ी थाना प्रभारी बाघसिंह ने बताया कि पोकरियों की ढाणी (बींजा गुड़ा) में खेतसिंह रावत कालूसिंह रावत के मकान खेत भी आसपास में हैं। खेतसिंह के मकान की एक दीवार का निर्माण चल रहा है, जिसका भी कालूसिंह उसके परिवार के लोगों ने विरोध किया। शुक्रवार को दिन में खेतसिंह की बकरियां कालूसिंह के खेत में चली गई, जिसको लेकर दोनों पक्षों में कहासुनी हुई। इन दोनों के खेत की सीमा में बबूल का पेड़ खड़ा है, जिसकी टहनियां काटने की बात को लेकर भी शुक्रवार को उनमें कहासुनी हुई। शाम करीब 7 बजे घर आकर फिर से दोनों पक्षों में विवाद हो गया।

आधे घंटे तक चला संघर्ष, पुलिस पर देरी से पहुंचने का आरोप

शाम 7 बजे खेतसिंह के घर पर कालूसिंह रावत उसके परिवार के लोगों ने धावा बोल दिया। इस पर खेतसिंह के परिवार के लोगों ने भी पत्थर फेंके। दोनों पक्षों के बीच करीब आधा घंटा लाठी-भाटा हथियारों से जंग चली, जिसमें खेतसिंह रावत ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। ग्रामीणों का आरोप है कि दोनों पक्षों के बीच झगड़े की सूचना देने के आधा घंटा बाद पुलिस दल मौके पर पहुंचा, जिसके बाद घायलों को अस्पताल ले जाया गया। थाना प्रभारी बाघसिंह का कहना है कि सूचना मिलते ही मौके के लिए रवाना हो गए थे, लेकिन बगड़ी थाने से पोकरियों की ढाणी की दूरी 25 से 27 किमी है। यह इलाका पहाडिय़ों के बीच स्थित है, फिर भी पुलिस दल आधा घंटे बाद ही मौके पर पहुंच गया।

मृतक की प|ी समेत पांच लोग गंभीर घायल

हमले में पोकरियों की ढाणी (बींजा गुड़ा) निवासी मृतक खेतसिंह रावत की प|ी गंगा (55), पुत्र पदमसिंह (27), ढगलसिंह (24) पुत्री नर्बदा (17) तथा सीता (26) प|ी जेठूसिंह रावत गंभीर घायल हो गए। इन्हें उपचार के लिए सोजत अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

हत्या का मुकदमा दर्ज, आरोपियों से पूछताछ

सोजत अस्पताल में भर्ती घायलों के पर्चा बयान के आधार पर पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। रिपोर्ट में पोकरियों की ढाणी (बींजा गुड़ा) निवासी घीसूसिंह, कालूसिंह, राजूसिंह, बुद्धेसिंह, शैतानसिंह, सम्पतसिंह, पन्नेसिंह, मनोहरसिंह, विजयसिंह, बहादूरसिंह, मांगूसिंह, जितेंद्रसिंह, गीता, रेखा, लक्ष्मी, पतासी, गगारादेवी सहित 17 से अधिक लोगों द्वारा धारदार हथियार, लाठी लोहे के सरियों से जान से मारने की नीयत से हमला करना बताया।

बगड़ी नगर. अस्पताल के बाहर जमा भीड़।

X
बकरी चराने पर विवाद, दो परिवारों में झगड़ा, वृद्ध की मौत, 8 घायल
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना