• Hindi News
  • National
  • भाव से बन सकते हैं भक्त: संत मुमुक्षुराम

भाव से बन सकते हैं भक्त: संत मुमुक्षुराम

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सोजत| रामस्नेही संत मुमुक्षुराम महाराज ने कहा हैं कि भगवान का भक्त बनने के लिए मन में शरणागत भाव का होना जरूरी हैं। वही उसे परमात्मा का एहसास दिलाते हैं। ईश्वर भक्ति में सबसे बड़ी प्रधानता हमारे भाव और समर्पण में हैं। दुनिया में जितने भी भक्त हुए हैं, उन्‍होंने अपने आराध्य के प्रति असीम श्रद्धा और भाव रखा हैं। जिनमें हनुमान जी महाराज, प्रहलाद, मीरा नरसी मेहता आदि शामिल हैं।

संत मुमुक्षुराम महाराज।

खबरें और भी हैं...