पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • तनै बदळा ल्याऊं भरतार, खाटू के मेळा मं...

तनै बदळा ल्याऊं भरतार, खाटू के मेळा मं...

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
उदयपुरवाटी| खाटूश्याम जाने वाले पदयात्रियों का रैला उमड़ रहा है। नीले-पीले निशान और ऊंची आवाज में डीजे पर श्याम नाम के जयकारे तथा भजनों से पूरा इलाका श्याममय हो रहा है।

कस्बे सहित इलाके में शुक्रवार को दिनभर चप्पे-चप्पे पर श्यामभक्त ही नजर रहे थे। हर गली और रास्ते में श्यामभक्त जयकारे लगाते चल रहे थे।

कस्बे के निकट सेठवाला कुवा से मालियों की ढाणी कोट तक हर जगह खाटू पदयात्री नजर रहे थे। गुरुवार तक भीड़ कम लग रही थी लेकिन शुक्रवार को इतने पदयात्री निकले की लोगों के सारे आंकलन फेल हो गए। कस्बे के मुख्य बाजार में सूरजगढ़ का निशान देखने के लिए स्वागत में भीड़ उमड़ पड़ी।

मुख्य रास्ते के हर गली मोहल्लों में पदयात्रियों का स्वागत सत्कार किया गया। खाटू जाने वाले पदयात्री डीजे की ऊंची आवाज पर खाटूवाले के भजनों पर नाचते-झूमते चल रहे थे। तनै बदळा ल्याऊं भरतार खाटू के मेळे मं. . , सबका बेड़ा पार लगावे बाबा श्याम. . . , जिसका कोई नहीं साथी उसका बाबा है रखवाळा. . . जैसे भजनों पर श्यामभक्त जयकारे लगाते झूमते चल रहे थे। कस्बे के श्यामभक्त भी निशान लेकर पदयात्रा पर रवाना हुए। गोपीनाथजी मंदिर में निशान पूजन किया गया। उसके बाद बाबा के जयकारे लगाते हुए कस्बे के मुख्य बाजार में शोभायात्रा निकाली गई। यहां से सैकड़ों पदयात्री खाटू के लिए रवाना हुए हैं। कस्बेवासी उनको विदा करने के लिए शाकंभरी गेट तक गए। पदयात्रियों में कालूराम सैनी, रामावतार शाह, जितेंद्र शाह, सुशील हरलालका, सुभाष हरलालका सहित सैकड़ों भक्त शामिल थे। शुक्रवार को भिवानी, रोहतक, लुहारु, सूरजगढ़, सुलताना, चनाना सहित कई जगह के पदयात्री कस्बे से गुजरे।

उदयपुरवाटी. मुख्यबाजार से गुजरता श्यामभक्तों का जत्था।