पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

'जीआईएस’ तय करेगा स्कूल

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मदनगंज-किशनगढ़.राज्य में नवीन राजकीय स्कूल खोलने तथा चल रहे स्कूलों को क्रमोन्नत करने के लिए सरकार ने नीति तय की है। इसके लिए राजस्थान प्रारंभिक शिक्षा परिषद के निर्देशन में एसएसए और रामाशिप के संयुक्त तत्वावधान में राज्य में ज्योग्राफिकल इंफॉरमेशन सिस्टम सर्वे शुरू किया गया है। इस सर्वे से शहर में स्कूलों की वास्तविक संख्या, एक स्कूल से दूसरे स्कूल की दूरी, किस देशांतर व अक्षांश पर किस दिशा में विद्यालय है की जानकारी, स्कूल मैपिंग सहित कई महत्वपूर्ण जानकारियां जुटाई जाएगी। जीपीएस मशीन द्वारा यह सर्वे किया जा रहा है। इसके लिए सर्वेयर को हर प्रकार से प्रशिक्षित कर फील्ड में कार्य करने के लिए उतारा गया है। यह सर्वे प्राथमिक विद्यालयों में डायस 2011 तथा उच्च माध्यमिक विद्यालयों में सेमिस के अनुसार किया जा रहा है। जो स्कूल उपरोक्त दोनों कोड में शामिल नहीं है। उन्हें आवश्यक रूप से नए डायस और सेमिस कोड देकर सम्मिलित किया जा रहा है। सर्वे कार्य पूरा होने के बाद राज्य सरकार को स्कूल खोलने तथा क्रमोन्नत करने से पूर्व सर्वे रिपोर्ट से तथ्य जुटाएगी और उसके अनुसार निर्णय करेगी। इससे कुछ ही दूरी के अन्तर्गत खुलने वाली कई स्कूलों पर प्रतिबंध लगेगा। और जहां जरूरत है वही पर स्कूल खुलेगा। यह सर्वे शहर की सभी राजकीय व निजी विद्यालयों में किया जा रहा है। नियमों से मिलेगी मान्यता सर्वे रिपोर्ट पूरी होने के बाद धड़ाधड़ खुल रही निजी व राजकीय स्कूलों पर लगाम लगेगा। स्कूल खोलने के बाद भी मान्यता लेने के लिए उपरोक्त सभी नियमों को देखा जाएगा उसके बाद ही स्कूल को मान्यता देने पर विचार किया जाएगा। पूरे क्षेत्र का आकलन करने के बाद ही स्कूल खोलने पर विचार करेगी तथा निजी स्कूलों को मान्यता देगी। इससे सरकारी धन की भी बचत होगी तथा सरकार भी आवश्यकता वाली स्कूलों में धन लगा सकेगी। प्रभारी ने बताया कि अगर सर्वे की रिपोर्ट राज्य में सफल हो गई तो शिक्षा के क्षेत्र में कई प्रकार के क्रांतिकारी कदम उठाए जाएंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए आप अपने प्रयासों में कुछ परिवर्तन लाएंगे और इसमें आपको कामयाबी भी मिलेगी। कुछ समय घर में बागवानी करने तथा बच्चों के साथ व्यतीत करने से मानसिक सुकून मिलेगा...

और पढ़ें