ऑनलाइन होंगी कूदन ब्लॉक की सेवाएं, डाटा फीड करने के लिए 447 कर्मचारियों को देंगे टेबलेट

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सीकर. कूदनब्लॉक की स्वास्थ्य सेवाएं ऑनलाइन होंगी। स्वास्थ्य विभाग ने अंतरा फाउंडेशन के सहयोग से इस पर काम शुरू कर दिया। एएनएम, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और आशा सहयोगिनियों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। ब्लॉक की 447 एएनएम, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और आशा सहयोगिनियों को पीसी टेबलेट दिए जाएंगे। इसके जरिए डाटा ऑनलाइन किए जाएंगे। पूरा काम पेपरलेस हो जाएगा। डाटा फीड करने के लिए विभाग और अंतरा फाउंडेशन ने सॉफ्टवेयर तैयार किया है। 
- स्वास्थ्य विभाग और अंतरा फाउंडेशन ने ब्लॉक में मातृ और शिशु मृत्यु दर पर लगाम लगाने के लिए यह कवायद शुरू की है। ब्लॉक का रिकार्ड ऑनलाइन होने के बाद स्वास्थ्य विभाग और अंतरा फाउंडेशन के अधिकारी दो साल बाद तक महिला और नवजात के स्वास्थ्य पर नजर रखेंगे। जरूरत पड़ने पर महिला और नवजात को स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराई जाएगी।
- इसके अलावा एएनएम, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और आशा सहयोगिनी को गर्भवती महिला के स्वास्थ्य और नवजात बच्चे के पोषण से संबंधित उपचार के तरीके बताए जाएंगे। सीएमएचओ डाॅ. विष्णु मीणा ने बताया कि सेक्टर वाइज बैच तैयार कर प्रशिक्षित किया जा रहा है। 
गांव-गांवके नक्शा तैयार होंगे :
- स्वास्थ्यविभाग अंतरा फाउंडेशन के सहयोग से कूदन ब्लॉक गांवों का नक्शा तैयार करेगा। वंचित गांवों और मोहल्लों को चिह्नित कर वहां स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। घर-घर पहुंचकर परिवार के सदस्यों का डाटा एकत्रित किया जाएगा। गर्भवती महिलाओं और नवजात बच्चों के आंकड़े एकत्रित किए जाएंगे। 
 
पीसीटीएस साॅफ्टवेयर से होगा लिंक 
ब्लॉकके रिकार्ड संधारण के लिए तैयार किए गए साॅप्टवेयर को पीसीटीएस सॉफ्टवेयर से लिंक किया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग फिलहाल पीसीटीएस सॉफ्टवेयर में गर्भवती महिला के टीकाकरण, चैकअप और जन्म के बाद नवजात के देखभाल से संबंधित सभी जानकारियों ऑनलाइन दर्ज रहती है। ​
खबरें और भी हैं...