पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • शिक्षकों की 310 परिवेदनाएं निरस्त, शिक्षक करेंगे प्रदर्शन

शिक्षकों की 310 परिवेदनाएं निरस्त, शिक्षक करेंगे प्रदर्शन

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शिक्षाविभाग में पदोन्नति पदस्थापन से संबंधित शिक्षकों की 310 परिवेदनाओं को निरस्त करने के खिलाफ शिक्षक संगठनों के पदाधिकारियों ने आंखें तरेर ली है। काफी समय से अपनी पदोन्नति के साथ ही मनमाने पदस्थापन का इंतजार कर रहे शिक्षकों को शिक्षा निदेशालय के परिवेदना देने के बाद समस्या हल होने की उम्मीद जगी थी, मगर परिवेदना के निरस्त करने से उनकी उम्मीदों पर पानी फिर गया है। इसके चलते अब विभिन्न शिक्षक संघों आंदोलन का रूख अख्तियार कर दिया है। जानकारी के अनुसार शिक्षा विभाग ने विभागीय पदोन्नति नवचयनित शिक्षकों पदस्थापन में ब्लॉक में रिक्त स्थान होने के बाद भी दूरस्थ स्थानों पर नवचयनित शिक्षकों को लगा दिया है।

साथ ही डीपीसी करते समय एक ही विषय के दो शिक्षकों को एक स्कूल में लगा दिया है। इस बारे में लगातार शिकायत मिलने के बाद शिक्षा निदेशालय ने पीड़ित शिक्षकों से परिवेदना मांगी थी। पाली मंडल से बड़ी संख्या में शिक्षकों ने अपनी परिवेदना विभाग में जमा करवाई थी, मगर अब इन परिवेदनाओं को निरस्त कर दिया गया है।

पहलेखुद ने मंगवाई परिवेदना, अब इसे गलत ठहरा दिया : शिक्षानिदेशालय ने शिक्षकों में पदोन्नति तथा मनमाने तरीके से किए गए पदस्थापन को लेकर लगातार रोष बढ़ते देखकर शिक्षकों से पहले परिवेदना देने का कहा था। इससे शिक्षकों को अपनी परेशानी के निस्तारण होने की आशा थी, अब शिक्षा निदेशालय ने ही परिवेदनाओं को गलत बताते हुए निरस्त कर दिया। इस बारे में उपनिदेशक माध्यमिक नूतनबाला कपिला का कहना है कि शिक्षकों के पदस्थापन, डीपीसी में दूरस्थ स्थान खाली स्थान के बाद भी अन्य मंडल में नियुक्ति देने से संबंधित परिवेदनाएं मिली थी। परिवेदनाओं को निस्तारण के लिए शिक्षा निदेशालय भेजी गई थी। अध्यापकों को दूर दराज ब्लॉक बदल कर पदस्थापित किया गया था। जबकि निकटतम स्थान पद रिक्त है।

शिक्षक करेंगे विरोध

राजस्थानशिक्षक संघ प्रगतिशील जालोर के जिलामंत्री नरिंगाराम ने बताया कि परिवेदनाओं का निस्तारण नहींं होने के कारण उपनिदेशक माध्यमिक के खिलाफ सोमवार को विरोध धरना प्रदर्शन किया गया जाएगा। उन्होंने बताया कि जालोर से लगभग 500 शिक्षक धरने में शामिल होगे। साथ ही जब तक शिक्षकों की समस्याओं का निस्तारण नहीं होने तक अनिश्चतकालीन प्रदर्शन किया जाएगा। शिक्षक संघ राष्ट्रीय के शिक्षक पदाधिकारी भी परिवेदनाओं का निस्तारण नहीं होने के कारण उपनिदेशक माध्यमिक को ज्ञापन देकर समस्याओं का समाधान करने का निवेदन किया जाएगा।