• Hindi News
  • National
  • वासनाओं में फंसा मनुष्य सत्संग कर मुक्त हो सकता है : साध्वी सुखिया दीदी

वासनाओं में फंसा मनुष्य सत्संग कर मुक्त हो सकता है : साध्वी सुखिया दीदी

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पाली | राजेंद्रनगर स्थित राधा कृष्ण मंदिर में चल रहे चातुर्मास को लेकर खेड़ापा रामद्वारा से जुड़ी साध्वी सुखिया दीदी ने कहा कि वासनाओं में फंसा मनुष्य सत्संग, सदगुरू और जप-तप से मुक्त हो सकता है। उन्होंने कहा कि वर्तमान दौर में मनुष्य काम, क्रोध, लोभ, मोह में फंसा हुआ है, जिससे निकलने के लिए गुरु द्वारा बताए गए मार्ग पर चलना होगा। सुखिया दीदी ने कहा कि गुरु ही हमें सही राह दिखाता है, इसलिए हर इंसान के जीवन में किसी गुरु का होना जरूरी है। अपने प्रवचन में उन्होंने धर्म का महत्व बताते हुए कहा कि हर व्यक्ति को अपनी दिनचर्या में से थोड़ा समय धर्म-कर्म के लिए भी देना चाहिए। इस मौके पर मदनलाल गौड़, लक्ष्मण, शंकर, हनुमानसिंह, राधा देवी, प्रकाश, सुधा गौड़, पंकज अयोध्या, पार्वती, गीता, पूजा पिंकी सहित कई श्रद्धालु मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...