• Hindi News
  • National
  • जालोर जिले में नौ तालाबों नाडी का जीर्णोद्धार कराएगा शनिधाम

जालोर जिले में नौ तालाबों नाडी का जीर्णोद्धार कराएगा शनिधाम

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पालीजिले के शनिधाम की ओर से जालोर के 9 तालाबों और नाडियों का जीर्णोद्धार कराया जाएगा। बुधवार को शनिधाम के संस्थापक दाती मदन महाराज राजस्थानी ने यहां पुलिस लाइन मैदान में कंबल वितरण कार्यक्रम के दौरान इसकी घोषणा की। साथ ही इसके लिए दाती महाराज ने कलेक्टर अनिल गुप्ता से जिले के जीर्णोद्धार कराए जाने वाले 9 तालाबों और नाडियों को चिह्नित कर जल्द से जल्द इसकी जानकारी देने को कहा है। इस कार्य का सारा खर्च शनिधाम की ओर से वहन किया जाएगा। दाती महाराज ने कहा कि एक-एक तालाब और नाडी पर 9-9 दिन दिए जाएंगे और रोजाना 9-9 घंटे काम कर उनकी खुदाई की जाएगी, ताकि आगामी बारिश में उनमें अधिकाधिक जल संरक्षित हो सके। साथ ही समारोह में दाती महाराज ने कहा कि आर्थिक स्थिति से कमजोर पिता जो उसके बेटी की शादी करवाने में सक्षम नहीं है वे मेरे पास जाएं, उन बेटियों की शादी का सारा खर्चा भी मैं वहन करूंगा। दाती महाराज ने कहा कि मैं बहुत सौभाग्यशाली हूं कि आज 800 बेटियों का पिता हूं। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से शुरू की गई जल स्वावलंबन योजना बहुत ही प्रेरणादायक योजना है। सरकार की इस योजना के साथ हम सबको कंधे से कंधा मिलाकर सहयोग करना होगा।



उन्होंने पानी बचाओ-बेटी बचाओ का नारा देते हुए कहा कि जल है तो कल है। सरकार की यह योजना भी जल को बचाने के लिए प्रेरित करती है। महाराज ने कहा कि पिछली बार भी उन्होंने सैकड़ों तालाबों और नाडियों की खुदाई की थी। ईश्वर की मेहरबानी से अच्छी बारिश हुई और उन तालाब-नाडी में जल की अधिक मात्रा सुरक्षित हो पाई। उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद महिलाओं से आह्वान किया कि वे एक संकल्प लेकर यहां से जाएं कि आज के बाद पानी का दुरुपयोग नहीं करेंगी। उन्होंने गांव का पानी गांव में, खेत का पानी खेत में और घर का पानी घर में ही रखने की बात कही। दाती महाराज ने कहा कि राष्ट्र की मेरी साधना है, राष्ट्र ही मेरा जीवन है और राष्ट्र ही मेरा सब कुछ है। इस अवसर पर एएसपी पीडी धानिया, डीएसपी डॉ. दुर्गसिंह राजपुरोहित, राधेश्याम मां श्रद्धा भी मौजूद थी।

दाती महाराज ने ली चुटकी, पुलिस वाले लेना जानते हैं, आज देना सीखा रहा हूं

कंबलवितरण कार्यक्रम का शुभारंभ दाती महाराज, कलेक्टर एसपी ने तीन-चार वृद्ध महिलाओं को कंबल वितरण कर किया। इसके बाद वहां मौजूद पुलिस कर्मियों को कंबल वितरण के आदेश मिलते ही सभी जवान कंबल वितरण करने में जुट गए। देखते ही देखते खचाखच भरे पांडाल में बैठी वृद्धाओं महिलाओं को चंद मिनट में कंबल वितरित कर दिए। दाती महाराज ने भी सभी जवानों को बुलाकर अपने हाथों से कंबल वितरण करने को कहा। इस बीच उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि पुलिस वाले देना नहीं जानते हैं, लेना ही जानते हैं। इसलिए उन्हें आज देना सीखा रहा हूं। इस पर वहां मौजूद सभी लोग हंसने लगे।

650 कंबल वितरित की, कम पड़ी तो 400 और मंगवाई

समारोहमें दाती महाराज ने 400 वृद्धाओं महिलाओं को कूपन देकर आमंत्रित किया गया था, लेकिन कार्यक्रम में 1 हजार से अधिक वृद्ध महिलाएं गईं। हालांकि महाराज भी 650 कंबल लेकर आए थे, लेकिन जब वितरण कार्यक्रम शुरू हुआ तो 650 कंबल भी कम पड़ गए। इस पर महाराज ने एसपी कल्याणमल मीना को शहर से हाथों-हाथ 400 कंबल मंगवाने के लिए कहा। महाराज ने इन कंबलों का खर्चा भी स्वयं वहन करने की बात कही। कार्यक्रम में शेष बची वृद्ध महिलाओं को कंबल आने तक बैठने को कहा। कुछ समय बाद ही कंबल लेकर आने के बाद शेष बीच वृद्ध महिलाओं को कंबल वितरित की गई।

जालोर. विधवामहिलाओं को मिले कंबल तो चेहरे पर नजर आई खुशी।

जालोर. कंबलवितरण के बाद महिलाओं से कुशलक्षेम पूछते दाती महाराज। फोटो|भास्कर

खबरें और भी हैं...