पाली भास्कर

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रविवार 08 अक्टूबर , 2017 कार्तिक कृष्ण पक्ष-3, 2074

टीचर:इरादे बुलंद होने चाहिए, पत्थर से भी पानी निकाला जा सकता है। पप्पू: मै तो लोहे से भी पानी निकाल सकता हूं। टीचर: कैसे पप्पू: हैंड पम्प से

जिस तरह से कुएं और नदियों समेत अन्य स्रोतों से निकली जलधाराएं अपना पानी समुद्र में मिला देती हैं,उसी प्रकार मनुष्य द्वारा चुना हर मार्ग, ईश्वर तक जाता है।

-स्वामीविवेकानंद

खबरें और भी हैं...