पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • पति ने रची थी हत्या की साजिश नाबालिग प्रेमिका भी गिरफ्त में

पति ने रची थी हत्या की साजिश नाबालिग प्रेमिका भी गिरफ्त में

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नाबालिग ने पहले किसी और युवक को किया था तैयार ओमप्रकाशकी प्रेमिका ने हत्या के लिए एक अन्य युवक को तैयार किया था। इस लड़की ने उसे कई बार फोन कर किसी लड़की से दोस्ती का झांसा देते हुए वारदात को अंजाम देने के लिए तैयार किया था। युवक बाद में डरकर पीछे हट गया। इस पर इसने अजीत सिंह को तैयार किया।

नगर संवाददाता | सीकर

ढाणीकुंडलपुर में शनिवार रात हुई विवाहिता की हत्या मामले में पुलिस ने गुरुवार को उसके पति ओमप्रकाश यादव एक अन्य युवक को गिरफ्तार कर लिया है। मामले में ओमप्रकाश की नाबालिग प्रेमिका को भी पकड़ा है। पुलिस के अनुसार ओमप्रकाश ने ही षड्यंत्र रचा था। एसपी डॉ. रवि ने बताया कि ओमप्रकाश यादव को षड्यंत्र रचने के मामले में गिरफ्तार कर लिया। अजीत इस नाबालिग युवती की बड़ी बहन का धर्म भाई है। इस युवती ने अजीत को किसी महिला के साथ दोस्ती का लालच दिया था।

योजनाबद्धतरीके से दिया अंजाम

सदरथानाधिकारी राजेंद्र रावत ने बताया कि ओम प्रकाश ने अपनी प्रेमिका के साथ मिलकर प|ी बिमला को मारने की योजना बनाई थी। प्रेमिका ने अपने परिचित अजीत सिंह के साथ बिमला को उसके पति की करतूत दिखाने के बहाने घर से बुलाया। वे मोटर साइकिल पर बैठाकर उसे कदमा का बास की ओर ले गए थे। शेषपेज | 14

ओमप्रकाश की प्रेमिका ने रास्ते में बाइक पर ही विवाहिता का गला दबा दिया था। इसके बाद कदमा का बास के नजदीक रोड पर बिमला की सांस चलती देखकर अजीत ने रस्सी से उसका गला दबाकर मार दिया।

हत्याके दौरान पति ने प्रेमिका से ली पूरी जानकारी : ओमप्रकाश अपनी प|ी बिमला की हत्या की सूचना के लिए लगातार प्रेमिका से टेलीफोन पर जानकारी ले रहा था। घटना के दौरान रात 10 से 2.30 बजे तक ओम प्रकाश ने अपनी प्रेमिका को करीबन 7 से 8 बार टेलीफोन किया। किसी को शक हो इस लिए वह घटना वाले दिन शनिवार रात मशीन पर चला गया। शनिवार रात से प|ी गायब हाेने के बाद भी पति की ओर से तलाश नहीं करने और कोई गुमशुदा की रिपोर्ट नहीं देने पर पुलिस को उस पर शक हो गया था। इसके बाद कॉल डिटेल में भी ओम प्रकाश द्वारा प्रेमिका से कई बार फोन पर बातचीत के आधार पर पुलिस ने मृतका के पति को गिरफ्तार किया है।

दोनों आरोपी

भास्कर ने 6 नवंबर को ही कर दिया था साजिश और उसके सूत्रधारों का खुलासा