पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गर्दन को चीरते हुए पार हुए 30 टन सरिए, नीलगाय को बचाने में ढलान से उतरा ट्रक

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सीकर. राजस्थान के फतेहपुर स्थित खूड़ी में शुक्रवार अलसुबह अचानक नीलगाय सामने जाने से तेज रफ्तार ट्रक अनियंत्रित होकर ढलान में उतर गया। ट्रक सरियों से भरा था, जिस कारण ढलान में पीछे से सरिए ड्राइवर केबिन का कांच तोड़ते हुए करीब 10 फुट तक बाहर निकल गए। केबिन में मौजूद खलासी जगदीशसिंह की सरियों से आधी गर्दन कट गई। 10 फीट बाहर आकर गिरे शव...
 

- ड्राइवर पटियाला के अनबोला निवासी चमकोर सिंह की भी सिर में चोट लगने से मौत हो गई। सरियों के साथ ही चालक परिचालक भी 10 फीट बाहर आकर गिर गए।
- इस दौरान ट्रक के पीछे साथ चल रहे दूसरे ट्रक रहे थे, जिन्होंने हादसे के बाद एंबुलेंस की सहायता से दाेनों को अस्पताल भेज दिया। सूचना मिलने पर फतेहपुर सदर पुलिस मौके पर पहुंची।
 
नीलगाय को बचाने के चक्कर में हादसा
- एएसआई सीताराम ओला ने बताया कि अंबाला-जोधपुर नेशनल हाइवे 65 स्थित खूड़ी में हादसा शनिवार सुबह करीब पांच बजे हुआ। शुक्रवार शाम को ट्रक चंडीगढ़ से हैदराबाद के लिए रवाना हुआ। शनिवार सुबह ट्रक खूड़ी से गुजर रहा था।
- दरअसल, इस दौरान ट्रक के सामने अचानक नीलगाय गई, जिसे बचाने के चक्कर में चालक ने ट्रक को अचानक घुमाने का प्रयास किया। इस समय ट्रक स्पीड में दौड़ रहा था। अचानक प्रेशर ब्रेक के साथ ट्रक घूमने से अनियंत्रित हो गया। ट्रक सड़क किनारे आने से ढलान में उतर गया। स्पीड में ट्रक नीचे आकर कच्ची मिट्टी में आगे से धंस गया। इस समय ट्रक में करीब 30 टन लोहे के एंगल भरे हुए थे, जो तेज धक्का लगने से केबिन तोड़ते हुए आगे गए। हादसे में ड्राइवर-क्लीन्डर की मौत हो गई। 
 

मोबाइल टावरों के लिए लोहे के एंगल रखे गए थे
- जांच में सामने आया कि शुक्रवार शाम 4 बजे चंडीगढ़ से 6 ट्रक रवाना हुए। सभी ट्रकों में मोबाइल टावरों के लिए लोहे के एंगल रखे गए थे। ट्रकों को 6 दिन में चंडीगढ़ से हैदराबाद पहुंचना था।
- फतेहपुर सदर पुलिस ने मृत ट्रक चालक चमकोर सिंह के खिलाफ लापरवाह तरीके से ट्रक चलाने का मामला दर्ज किया है।
- धानुका अस्पताल में दोनों शव का पोस्टमार्टम किया गया। हादसे की सूचना मिलने पर अस्पताल में भीड़ जमा हो गई। दोनों मृतकों के परिजन अस्पताल पहुंचे।
- पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने दोनों के शव परिजनों को सौंप दिए। हादसे के बाद ट्रक में भरे सरिए केबिन तोड़कर बाहर निकल गए। 
खबरें और भी हैं...