पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तस्करों ने आबकारी की गाड़ी पर बोतलें फेंकी, टक्कर मारी

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सीकर. नाकाबंदी तोड़कर भागे शराब तस्करों ने शनिवार रात आबकारी की गाड़ी को कई बार टक्कर मारी। तस्करों ने आबकारी की गाड़ी पर बोतलें भी फेंकी। आबकारी टीम ने भी करीब 40 किलोमीटर तक पीछा करने के बाद तस्करों की गाड़ी को पकड़ लिया और एक तस्कर को दबोच लिया। गाड़ी से लाखों रुपए की अवैध शराब बरामद की गई है। मौके से दो आरोपी फरार हो गए।
आबकारी सीआई लक्ष्मीनारायण ने बताया कि अवैध शराब तस्करी की सूचना पर शनिवार रात करीब डेढ़ बजे बेरी से आगे नाकाबंदी की गई। झुंझुनूं की ओर से आई एक बोलेरो कैंपर को रुकवाने का प्रयास किया तो शराब तस्कर नाकाबंदी तोड़कर भाग निकले। इस पर आबकारी टीम ने पीछा किया और दादिया व सदर थाना पुलिस को सूचना दी।
सूचना पर पुलिस ने भी शराब तस्करों का पीछा किया। बेरी से दादिया होते हुए शराब तस्कर पिपराली रोड से सीकर शहर में प्रवेश कर गए। तस्करों ने पीछा कर रही आबकारी की गाड़ी को कई बार टक्कर मारी और बोतलें फेंकी। टक्कर से आबकारी की गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई। आखिरकार रामपुरा के पास आबकारी टीम ने गाड़ी आगे लगाकर तस्करों को रोक लिया।
आबकारी ने बीबीपुर छोटा फतेहपुर निवासी अशोक कुमार पुत्र चंद्रभान सिंह को मौके पर पकड़ लिया। डालमास निवासी रजनीश उर्फ टमाटरिया पुत्र राधाकिशन व चंदपुरा निवासी विजयपाल पुत्र मेवाराम भाग निकले। गाड़ी से हरियाणा निर्मित शराब के 80 कार्टन बरामद किए गए हैं।
पहले भी हो चुके हैं हमले
शराब तस्कर पहले भी आबकारी की गाड़ी को कई बार टक्कर मार चुके हैं। टीम के सदस्यों पर गाड़ी चढ़ाने का प्रयास कर चुके हैं। गाड़ीयों के आगे गर्डर लगे होने के कारण उनकी गाड़ी को ज्यादा नुकसान नहीं होता है।