• Hindi News
  • Latest News Hindi News Sikar News City News

सस्ती सब्जी मिले इसलिए सरकार कराएगी 500 हेक्टेयर में खेती

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सीकर. बढ़ती महंगाई के बीच यह राहत भरी खबर है। सस्ती सब्जियां मुहैया कराने के लिए सरकार खुद सब्जी की खेती कराएगी। सीकर में विभिन्न किस्मों की 500 हेक्टेयर में बुवाई होगी।
उद्यान विभाग ने मिर्च, टमाटर, बैंगन, तरबूज, खीरा, गोभी भिंडी, लोकी, करेला, तुरई आदि का चयन किया है। इससे फायदा यह होगा कि अभी जिले में सब्जी का स्थानीय उत्पादन कम होता है। इस वजह से बाहर से सब्जियां मंगवानी पड़ती है, जो आम आदमी को महंगे में उपलब्ध होती हैं। किसानों को इसके लिए विभाग दो करोड़ रुपए का
हाईब्रीड बीज, खाद व कीटनाशक मुफ्त में देगा।
उद्यानिकी तकनीक अपनाने वाले किसानों को अधिकतम एक हैक्टेयर के लिए 35000 रुपए की सहायता राशि भी दी जाएगी। कृषि अधिकारी (उद्यान) हरलालसिंह बिजारणियां का कहना है कि योजना का मकसद है कम पानी में ज्यादा उत्पादन कर बाजार में आम उपभोक्ता के लिए सस्ती सब्जी उपलब्ध कराना है।
किसान खुद करेंगे बीज की खरीद
विभाग की ओर से चयनित किसी भी कंपनी से किसान स्वयं अपने स्तर पर बीज की खरीद कर फसल की बुआई कर सकेंगे। इसके लिए उद्यान विभाग किसानों को कंपनियों के चयन में सहायता करेगा। च्वाईस के बाद कंपनियों की ओर से किसानों को बीज दिया जाएगा। बाकी आदान सहकारी समितियों के जरिये मिलेगा।
ये है आम आदमी के फायदे की सब्जी
सीकर कृषि उपज मंडी से हर दिन 300 क्विंटल सब्जी बाजार में जाती है। जिलेभर में यह आंकड़ा करीब 800 क्विंटल है। इस खपत को पूरा करने के लिए करीब 400 क्विंटल सब्जी बाहर से मंगवानी पड़ रही है। अब 500 हेक्टेयर में उत्पादन होने से यहीं बड़ी मात्रा में सब्जी उपलब्ध होगी। इससे अभी औसत 25 रुपए किलो बिक रही सब्जियों के भावों में कम से कम पांच रुपए की गिरावट की संभावना बनती है।