पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

टिकट दावेदारी के लिए बूथ वाइज मांगे 15 नाम

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदेशकांग्रेसकमेटी आने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा को मात देने के लिए पूरी तरह तैयारियों में जुट गई है। इस बार राज्य में विधायक टिकट देने के लिए अनूठा तरीका अपना जा रहा है। जिस व्यक्ति को कांग्रेस टिकट की दावेदारी जतानी है उसे अपने विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले प्रत्येक बूथ से 15-15 लोगों के नाम हाईकमान को देने होंगे। प्रत्येक व्यक्ति का पता और उसका फोन नंबर देना होगा। प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने इसका फार्मेट भी जारी किया है। इसके बाद उदयपुर जिले में ज्यादातर कांग्रेस नेता अपनी दावेदारी जताने के लिए इस काम में जुट गए हैं। ज्यादातर नेताओं ने ये काम पूरा करके जयपुर फार्मेट भिजवा दिए, तो कुछ इस काम में लगे हुए हैं। बताया जा रहा है कि प्रदेश कांग्रेस प्रभारी गुरुदास कामत ने सभी जिलों में कांग्रेस पदाधिकारियों को ऐसे आदेश जारी किए। इसमें कहा गया है कि प्रत्येक बूथ से 15 लाेगों में जुड़ने चाहिए। वह कांग्रेस कार्यकर्ता, कांग्रेसी विचारधारा से जुड़ा या फिर नया कार्यकर्ता हो सकता है। जो लोग इस काम को करेगा, उनमें से एक को टिकट देने का निर्णय होगा।

प्रत्येकविधानसभा में हैं 200 करीब बूथ : जिलेमें 8 विधानसभा हैं और प्रत्येक विधानसभा में 200 के करीब बूथ हैं। शहर विधानसभा में कुल 216 बूथ हैं। प्रति बूथ अगर 15 लोग जोड़ते हैं तो कुल 3240 लोगों के नाम भेजने होंगे। इसी तरह ग्रामीण विधानसभा में 257 बूथ हैं।

नाम को सैम्पल के तौर पर फोन करके पता भी करेंगे

टिकटके लिए दावेदारी जताने वाले जितने भी लोग बूथ वाइज नाम भेज रहे हैं उन नामों को कुछ बूथों पर सैम्पल के तौर पर जांच की जाएगी। पार्टी हाईकमान से उन्हें फोन करके पता लगाएंगे कि जो नाम दिए हैं वह कांग्रेस से जुड़ना चाहते या फिर फर्जी तरीके से जोड़े गए हैं। अनुमान लगाया जा रहा है कि राज्य की 200 विधानसभाओं से लाखों की संख्या में पार्टी को नामों की सूची मिलेगी। पार्टी हार्डकॉपी के साथ इन नामों की सूची का डाटाबेस भी तैयार कर रही है।

खबरें और भी हैं...