• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • शहरी क्षेत्रों में रोजाना दो और गांवों में 3 घंटे बिजली कटौती

शहरी क्षेत्रों में रोजाना दो और गांवों में 3 घंटे बिजली कटौती

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदेशभरकेथर्मल पॉवर प्लांट्स में कोयले की कमी के कारण बिजली उत्पादन घट गया है। इसकी भरपाई के लिए अब प्रदेशभर में रविवार से शहरी क्षेत्रों में रोजाना सुबह 9 से 11 बजे तक बिजली कटौती की जाएगी। प्रदेश के प्रोडक्शन और डिस्पेच विभाग ने आदेश जारी कर रविवार से रोजाना व्यवस्थित कटौती करने को कहा है। आदेश रविवार से ही लागू हो रहे हैं लेकिन यह कटौती कब तक चलेगी, इसके स्पष्ट निर्देश अब तक नहीं मिले हैं। उदयपुर शहर में पावर कट से रोजाना 4-5 लाख यूनिट बिजली की बचत की जाएगी ताकि शहर के सभी इलाकों में बिजली आपूर्ति हो सके।

देश में बिजली की कमी होने के कारण उचित कीमत पर सरकार को एनर्जी एक्सचेंज से बिजली नहीं मिल पा रही है। ऐसे में बिजली की बढ़ती मांग के चलते एनर्जी एक्सचेंज की दरें 9 रुपए प्रति यूनिट पहुंच गई है। दीपावलीमें बढ़ जाती है मांग लेकिन इस बार होगी कटौती : दीपावलीके दौरान बिजली की मांग 10 से 15 प्रतिशत बढ़ जाती है। इसी तरह उदयपुर शहर की रोज की खपत लगभग 110 मेगावाट यूनिट है। ऐसी कटौती तीन वर्ष पूर्व हुई थी।

शहरी नगरपालिका क्षेत्र : सुबह9 से 11 तक कट।

ग्रामीणक्षेत्र : सिंगल,थ्री फेस घरेलू आपूर्ति रोजाना सुबह 11 से दोपहर 2 बजे तक तीन घंटे बंद रहेगी

कृषिउपयोग : रात11 से सुबह 4 बजे तक होने वाली थ्री फेज ब्लॉक सप्लाई सुबह 9 से दोप. 2 बजे तक होगी।

प्रदेश भर के पॉवर प्लांट्स में फिलहाल 3000 मेगावाट यानी 720 लाख यूनिट बिजली की कमी हो गई है। राज्य में 19113 मेगावाट बिजली का उत्पादन हर रोज होता है। वहीं बिजली की औसत मांग 2100 लाख यूनिट है। बिजली के स्त्रोत की क्षमता 2600 लाख यूनिट ही है। ऐसे में इस क्षमता से प्रदेश में बिजली मिल जाती है मगर इन दिनों उत्पादन कम होेने से परेशानी रही है। उदयपुर सर्किल के एसई एस.के. सिन्हा ने बताया कि लगभग 5 दिन तक यह कटौती रह सकती है।

खबरें और भी हैं...