कलेक्टर-एसपी 7 घंटे चौकी पर बैठे रहे मजदूरों को फैक्ट्री में नहीं घुसने दिया

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
राजसमंद. भारतीय मजदूर संघ की ओर से जेके टायर फैक्ट्री परिसर में सोमवार को प्रस्तावित आमसभा कर झंडारोहण कार्यक्रम के तहत रेलवे स्टेशन पर संघ कार्यालय के सामने आमसभा कर धरना दिया। हालांकि भारी पुलिस लवाजमा और जेके प्रबंधन से भी पुख्ता सुरक्षा प्रबंध के चलते फैक्ट्री परिसर में झंडारोहण कार्यक्रम नहीं हो सका।
 
रेलवे स्टेशन पर ही आमसभा में मजदूर संघ के श्रमिक सहित भाजपा समर्थित संगठन के कार्यकर्ता सहित नरेगा व जेके कर्मचारियों ने भाग लिया। इस दौरान नारेबाजी भी चलती रही। हंगामे की आशंका से कलेक्टर, एसपी सहित भारी पुलिस जाप्ता मौजूद रहा। संघने आमसभा कर जेके फैक्ट्री के प्रबंधन से वार्ता की मांग की। इस पर प्रशासन से प्रबंधन से गुप्त वार्ता कर सात सूत्रीय ज्ञापन सौंपा। वार्ता के बाद दोपहर चार बजे धरना समाप्त किया। सात घंटे बाद धरना समाप्त होने पर पुलिस व पूरा जिला प्रशासन व जेके प्रबंधन ने राहत की सांस ली।
 
आमसभा में प्रदेश संगठन मंत्री रामविलास पारीक ने कहा कि जब तक प्रबंधन वार्ता नहीं करता तब तक पड़ाव जारी रहेगा। जेके कर्मचारी हित मेें कार्य करने का वादा किया। इसके बाद पांच सदस्य प्रबंधन से वार्ता करने गए। वार्ता में दिनेश पालीवाल, किशनसिंह, पवन सुरोगी, सोहनसिंह सैनी, संभागीय श्रम आयुक्त राकेशकुमार, एडीएम बीएम बैरवा, एएसपी हर्ष रत्नू, जेके प्रबंधन के अनिल मिश्रा, राकेश श्रीवास्तव के बीच एक घंटे चली गुप्त वार्ता हुई।
खबरें और भी हैं...