Hindi News »Sports »Cricket »Latest News» Ball Tampering, South Africa, Australia, Tim Paine, बॉल टैम्परिंग स्कैंडल के बाद आज पहली बार मैदान में उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम, साउथ अफ्रीका Vs ऑस्ट्रेलिया

बॉल टैम्परिंग स्कैंडल के बाद आज पहली बार मैदान में उतरेगी ऑस्ट्रेलियाई टीम, सीरीज में आगे है साउथ अफ्रीका

बॉल टैम्परिंग स्कैंडल से दुनियाभर में शर्मसार ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम इस घटना के बाद आज पहली बार मैदान में उतरेगी।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Mar 30, 2018, 01:37 PM IST

  • बॉल टैम्परिंग स्कैंडल के बाद आज पहली बार मैदान में उतरेगी ऑस्ट्रेलियाई टीम, सीरीज में आगे है साउथ अफ्रीका, sports news in hindi, sports news
    +1और स्लाइड देखें
    केपटाउन में हुए तीसरे टेस्ट में बॉल टैम्परिंग की घटना हुई थी। बाद में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्मिथ समेत तीन प्लेयर्स पर बैन लगाया गया था।

    जोहानिसबर्ग.बॉल टैम्परिंग स्कैंडल से दुनियाभर में शर्मसार ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम इस घटना के बाद आज पहली बार मैदान में उतरेगी। साउथ अफ्रीका पहले ही इस सीरीज में 2-1 से आगे है। स्टीव स्मिथ की जगह विकेट कीपर टिम पैन को कप्तान बनाया गया है। बता दें कि केपटाउन में हुए तीसरे टेस्ट में बॉल टैम्परिंग की घटना हुई थी। बाद में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्मिथ समेत तीन प्लेयर्स पर बैन लगाया गया था। स्मिथ के अलावा डेविड वॉर्नर और कैमरन बेनक्रॉफ्ट बाकी दो प्लेयर्स हैं।

    हूटिंग का डर
    - ऑस्ट्रेलियाई मीडिया की रिपोर्ट्स में कहा गया है कि बॉल टैम्परिंग मामला सामने आने के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम की मुश्किलें सिर्फ साउथ अफ्रीकी प्लेयर्स ही नहीं बढ़ाएंगे। उनके सामने एक नई चुनौती मैदान के बाहर मौजूद दर्शक भी पेश कर सकते हैं।
    - ऑस्ट्रेलियाई टीम ने खेल भावना के विपरीत जो हरकत की है, उससे दुनियाभर और खासतौर पर साउथ अफ्रीकी क्रिकेट प्रशंसक बहुत नाराज हैं।

    कितना दबाव होगा?
    - स्मिथ, वॉर्नर और बेनक्रॉफ्ट के बाहर होने से ऑस्ट्रेलिया को मैदान पर भी परेशानियां होंगी। ये तीनों ही टॉप बैट्समैन हैं। इनकी जगह मैथ्यू रेन्शॉ, ग्लेन मैक्सवेल और जो बर्न्स को साउथ अफ्रीका भेजा गया है।
    - रेन्शॉ और बर्न्स को ज्यादा अनुभव नहीं है। दूसरी तरफ, मैक्सवेल ज्यादातर वनडे और टी20 क्रिकेट ही खेलते हैं। जाहिर है फिलेंडर, रबाडा और मोर्नी मोर्केल के सामने उन्हें दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

    बॉल टैम्परिंग: आखिर हुआ क्या था?
    - केपटाउन में तीसरे टेस्ट के दौरान ऑस्ट्रेलिया के कैमरन बेनक्राफ्ट में बॉल चमकाने के लिए छुपाकर लाए गए एक टेप का इस्तेमाल किया। इसे टीवी कैमरों ने पकड़ लिया।
    - बाद में स्मिथ, बेनक्रॉफ्ट और वॉर्नर ने माना कि उन्होंने गलत हरकत की थी और इसके लिए बाकायदा प्लान बनाकर वो मैदान में उतरे थे। तीनों ने माफी भी मांगी थी।

    क्या होता है बॉल टैम्परिंग से?
    - दरअसल, बॉल को एक तरफ से रफ यानी दूसरी तरफ शाइन यानी चमकीला रखा जाता है। आपने देखा होगा कि तेज गेंदबाज कई बार बॉल को छुपाकर रनअप पूरा करते हैं। ऐसे कई उदाहरण क्रिकेट में मौजूद हैं जब प्लेयर्स ने रिवर्स स्विंग कराने के लिए गेंद से छेड़छाड़ की।
    - पाकिस्तान में इमरान खान और सरफराज के वक्त से ही बॉल टैम्परिंग के आरोप लगते रहे हैं। वकार यूनुस और वसीम ही नहीं शोएब अख्तरत पर भी इस तरह के आरोप लगे। बाद में कई देशों में बॉलर्स ने रिवर्स स्विंग के लिए बॉल की एक सतह को रफ रखना शुरू किया।

    क्यों किया जाता है ऐसा?
    - नई बॉल से रिवर्स स्विंग कराना मुमकिन नहीं है। लिहाजा, फील्डिंग कर रही टीम के प्लेयर्स जानबूझकर और खेलभावना के विपरीत बॉल को पुराना करने के तरीके अपनाते हैं। जैसे बॉल पर पैर रखना, उसे जमीन पर रगड़ना, सिलाई उधेड़ना या किसी और तरीके का इस्तेमाल करते हैं। आईसीसी इस पर सख्ती से पेश आती है।

  • बॉल टैम्परिंग स्कैंडल के बाद आज पहली बार मैदान में उतरेगी ऑस्ट्रेलियाई टीम, सीरीज में आगे है साउथ अफ्रीका, sports news in hindi, sports news
    +1और स्लाइड देखें
    स्मिथ के साथ वॉर्नर।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Latest News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×