Hindi News »Sports »Cricket »Latest News» Australian Coach Lehmann To Resign After Ball Tempring Issue

बॉल टेम्परिंग: स्मिथ-वॉर्नर पर लग सकता है एक साल का बैन, कोच लेहमैन का पद भी खतरे में

स्मिथ की जगह मैट रैनशॉ को ऑस्ट्रेलियाई टीम में शामिल किया गया।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Mar 27, 2018, 06:26 PM IST

  • बॉल टेम्परिंग: स्मिथ-वॉर्नर पर लग सकता है एक साल का बैन, कोच लेहमैन का पद भी खतरे में, sports news in hindi, sports news
    +1और स्लाइड देखें
    मिकी ऑर्थर के बाद 2013 में कोच बने थे लेहमैन।

    स्पोर्ट्स डेस्क.केपटाउन में साउथ अफ्रीका-ऑस्ट्रेलिया टेस्ट में हुए बॉल टेम्परिंग विवाद में स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर के बाद कोच डेरेन लेहमैन पर गाज गिर सकती है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, लेहमैन साउथ अफ्रीका के खिलाफ चौथे टेस्ट से पहले अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं। साथ ही स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर एक साल का बैन लग सकता है। हालांकि, इस संबंध में अभी कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) के सीईओ जेम्स सदरलैंड ने कहा, "बुधवार की सुबह तक ऑस्ट्रेलियाई नागरिकों को जांच के बारे में बता दिया जाएगा।" इससे पहले आईसीसी ने कार्रवाई करते हुए स्टीव स्मिथ पर एक टेस्ट का बैन लगा दिया था। सीए ने स्मिथ की जगह मैट रैनशॉ को टीम में शामिल किया है।


    1) क्या लेहमैन ने नहीं की चीटिंग?
    - स्मिथ के अनुसार, इस विवाद में कोचिंग स्टाफ का कोई हाथ नहीं है। जबकि टेस्ट के दौरान साफ दिख रहा था कि लेहमैन बॉल टेम्परिंग के बारे जानते हैं। वह लगातार मैदान पर खिलाड़ियों तक संदेश पहुंचा रहे थे। वे कैमरून बेनक्रॉफ्ट से बात करते भी नजर आए।
    - पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क का भी मानना है कि लेहमैन समान रूप से चीटिंग में शामिल थे। इस केस में कोच ने टीम को नहीं संभाला।

    2) इस्तीफा देंगे लेहमैन?
    - 2013 में मिकी ऑर्थर की जगह लेहमैन कोच बने थे। अभी उनके सामने 2019 में विश्वकप और एशेज सीरीज थी लेकिन अब वे इस्तीफा दे सकते हैं।
    - लेहमैन ने अपनी कोचिंग में ऑस्ट्रेलिया को 2015 विश्वकप और बिना मैच हारे दो एशेज सीरीज में जीत दिलाई।

    3) स्मिथ और वॉर्नर पर लग सकता है बैन
    - ऑस्ट्रेलियाई मीडिया के अनुसार, सीए स्मिथ और वॉर्नर पर एक साल का बैन लगा सकता है। स्मिथ ने बॉल टेम्परिंग की बात प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्वीकारी थी।
    - दोनों पर बैन लगने से ऑस्ट्रेलियाई टीम को तगड़ा झटका लगेगा। स्मिथ और वॉर्नर 2019 विश्वकप टीम से बाहर हो जाएंगे।

    4) स्लेजिंग के भी विरोध में है ऑस्ट्रेलियाई पीएम
    - ऑस्ट्रेलियाई पीएम मैल्कम टर्नबुल क्रिकेट में स्लेजिंग के भी खिलाफ हैं। उन्होंने कहा, " मेरा मानना है कि स्लेजिंग करने पर भी कठोर कार्रवाई होनी चाहिए।" हालांकि, लेहमैन और उनकी टीम स्लेजिंग को खेल का हिस्सा मानती है।
    - टर्नबुल ने सीए के चेयरमैन डेविड पीवर से चर्चा कर टेम्परिंग विवाद में जल्द ही एक्शन लेने को कहा।

    5) विवादों में रही ऑस्ट्रेलिया-साउथ अफ्रीका सीरीज
    - पहले टेस्ट में नाथन लियोन ने एबी डीविलियर्स को रनआउट कर दिया, उसके बाद उनके ऊपर बॉल फेंक दी। इस कारण लियोन की 15% मैच फीस काट ली गई। इसी टेस्ट में वॉर्नर और क्विंटन डिकॉक के बीच बहस हुई। दोनों पर जुर्माना लगाया गया। वॉर्नर को 3 डिमेरिट प्वाइंट दिए गए और 75% मैच फीस भी काटी गई। डिकॉक को 1 डिमेरिट प्वाइंट मिला और उनकी 15% मैच फीस काटी गई।
    - दूसरे टेस्ट में साउथ अफ्रीका के कगीसो रबाडा ने स्टीव स्मिथ को आउट किया। इसके बाद वह उनके सामने जाकर चिल्लाने लगे और कंधा मार दिया। रबाडा पर दो टेस्ट का बैन लगा। हालांकि बाद में आईसीसी ने बैन को हटाकर एक डिमेरिट प्वाइंट दिए और मैच फीस का 25% हिस्सा काट लिया।
    - तीसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के कैमरून बेनक्रॉफ्ट ने बॉल टेम्परिंग की। इसके बाद स्मिथ को कप्तानी, वॉर्नर को उपकप्तानी से हाथ धोना पड़ा। स्मिथ पर एक टेस्ट के बैन के साथ पूरी मैच फीस का जुर्माना और बैनक्रॉफ्ट की 75% मैच फीस काटी गई।

  • बॉल टेम्परिंग: स्मिथ-वॉर्नर पर लग सकता है एक साल का बैन, कोच लेहमैन का पद भी खतरे में, sports news in hindi, sports news
    +1और स्लाइड देखें
    रैनशॉ चौथे टेस्ट से पहले टीम के साथ जुड़ जाएंगे।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Australian Coach Lehmann To Resign After Ball Tempring Issue
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Latest News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×