--Advertisement--

अंतर्राष्ट्रीय दौरों पर थकान और चोटें ना बढ़ें इसलिए IPL खिलाड़ियों पर नजर रखेगा बीसीसीआई

बीसीसीआई के डेटाबेस में टॉप-50 खिलाड़ियों को रखा जाएगा, इनमें से 27 बोर्ड से अनुबंधित होंगे बाकी आईपीएल से चुने जाएंगे।

Dainik Bhaskar

Mar 31, 2018, 04:32 PM IST
खिलाड़ियों की हेल्थ और फिटनेस प खिलाड़ियों की हेल्थ और फिटनेस प

नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) इंटरनेशल लेवल पर टीम के बेहतर परफॉर्मेंस के लिए खिलाड़ियों की हेल्थ और फिटनेस पर नजर रखना चाहता है। इसके लिए वह नई पॉलिसी लेकर आ रहा है। ताकि किसी भी इंटरनेशनल सीरीज से पहले खिलाड़ियों को फिट और तरोताजा रखा जा सके। किसी क्रिकेटर के अनफिट होने पर फौरन उसे रिप्लेस किया जा सके। इसके लिए टॉप-50 खिलाड़ियों का एक पूल बनाया जाएगा। साथ ही इन सभी खिलाड़ियों का डेटाबेस तैयार किया जाएगा। इसकी शुरुआत इसी साल से आईपीएल टूर्नामेंट से होगी।

इस पॉलिसी का मकसद बेहतर परफॉर्मेंस और फिटनेस

- बीसीसीआई के एक अफसर के मुताबिक, 50 खिलाड़ियों के पूल में 27 बोर्ड के अनुबंधित खिलाड़ी होंगे। वहींं, 23 खिलाड़ियों को आईपीएल में उनके परफॉर्मेंस के बाद सिलेक्ट किया जाएगा।

- इस अफसर के मुताबिक, मैनेजमेंट टीम इंडिया के खिलाड़ियों की तरह ही आने वाले सालों में डोमेस्टिक क्रिकेट खेलने वाले क्रिकेटर्स को भी इंटरनेशल लेवल का बनाना चाहता है।

डेटा बेस में क्या शामिल किया जाएगा?

- इसमें खिलाड़ियों की परफॉर्मेंस

- उनका फिटनेस लेवल

- चोटें

- स्वास्थ्य

- साइकोलॉजी जैसी चीजों को मॉनिटर किया जाएगा।

आईपीएल के बाद खिलाड़ियों पर बढ़ेगा प्रेशर

- इस अफसर के मुताबिक- “ आईपीएल के बाद टीम इंडिया इंग्लैंड के दौरे पर जाएगी। इसमें आयरलैंड दौरा भी शामिल रहेगा। 2019 वर्ल्ड कप से पहले टीम इंडिया को कई सीरीज भी खेलनी हैं। लगातार क्रिकेट खेलने से उन पर प्रेशर बढ़ेगा। इस दौरान सभी खिलाड़ियों के फिटनेस की जांच होती रहेगी। अगर किसी का परफॉर्मेंस ठीक नहीं है या वह चोटिल है तो उसे टीम से बाहर किया जा सकता है।"

- "इस काम में टीम के फिजियो पैट्रिक फारहार्ट नेशनल क्रिकेट एकेडमी में नजर रखेंगे।"

- माना जा रहा है कि बोर्ड से अनुबंधित खिलाड़ियों के अलावा ऋषभ पंत, मयंक अग्रवाल, पृथ्वी शॉ और आवेश खान जैसे युवा खिलाड़ियों को भी इस लिस्ट में रखा जाएगा।

तेज गेंदबाजों के लिए प्लान तैयार कर चुका है बोर्ड
- न्यूज एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक, योजना का ब्लू-प्रिंट तैयार हो चुका है और आईपीएल से 23 खिलाड़ियों को चुनने में नेशनल सिलेक्शन कमेटी के हेड एमएसके प्रसाद का अहम रोल रहेगा।

- बता दें कि बीसीसीआई आईपीएल के दौरान तेज गेंदबाजों पर पड़ने वाले बोझ के लिए योजना बनाने की बात पहले ही कह चुका है। इसके तहत बोर्ड के कॉन्ट्रेक्ट में शामिल खिलाड़ियों के नेट्स पर बॉलिंग करने पर लिमिट बनाई गई थी।
- आने वाले महीनों में भारत इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया जैसे बड़े और लंबे टूर करने वाला है। साथ ही टीम लगातार वनडे सीरीज भी खेलती रहेगी। ऐसे में बोर्ड को टीम में कम से कम 7-8 फिट तेज गेंदबाजों की जरूरत होगी, जिन्हें सीरीज दर सीरीज बदला जा सकेगा।

X
खिलाड़ियों की हेल्थ और फिटनेस पखिलाड़ियों की हेल्थ और फिटनेस प
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..