क्रिकेट

--Advertisement--

U-19 वर्ल्ड कप: कोई जडेजा का फैन तो किसी के पिता बेटे को आउट करने का देते थे चैलेंज

फाइनल में टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में नौ राज्यों के खिलाड़ी, इनमें पंजाब और यूपी के 2-2 प्लेयर शामिल थे।

Dainik Bhaskar

Feb 04, 2018, 08:54 AM IST
भारत ने शनिवार को चौथी बार अंडर-19 वर्ल्ड कप जीतकर इतिहास रचा। भारत ने शनिवार को चौथी बार अंडर-19 वर्ल्ड कप जीतकर इतिहास रचा।

नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया को हराकर वर्ल्ड कप जीतने वाली अंडर-19 भारतीय टीम में 11 राज्यों के 16 खिलाड़ी हैं। इनमें से 9 राज्यों के इन 11 खिलाड़ियों को फाइनल में उतरने का मौका मिला। सबसे ज्यादा पंजाब और यूपी से 2-2 शामिल रहे। खास बात है कि इन युवा क्रिकेटर्स में कोई रवींद्र जडेजा का फैन है तो किसी ने सिर्फ 14 की उम्र में सचिन-कांबली की तरह पारी खेली। एक बैट्समेन के पिता लोगों को चैलेंज देते थे कि जो भी बेटे को आउट करेगा, उसे 100 रुपए इनाम देंगे।

पृथ्वी शॉ (कप्तान), 18 साल, मुंबई

- 14 साल की उम्र में हैरिस शील्ड इंटर स्कूल टूर्नामेंट में 546 रन की पारी खेली थी। यह टूर्नामेंट 1988 में की गई सचिन-कांबली की 664 रन की रिकॉर्ड पार्टनरशिप के लिए जाना जाता है।

खास बात: इनके दादाजी बिहार के गया में कटपीस की दुकान चलाते हैं।

शुभमन, 18 साल, पंजाब

- विजय मर्चेंट ट्रॉफी में डेब्यू मैच में दोहरा शतक जमाया। लगातार दो साल बीसीसीआई बेस्ट जूनियर ट्रॉफी मिली।

खास बात: पिता बचपन में दूसरों को चैलेंज देते थे कि जो भी शुभमन को आउट कर देगा, उसे वे 100 रुपए देंगे।

मनजोत, 19 साल, दिल्ली

- कूच-बिहार ट्रॉफी में 742 रन बनाकर दिल्ली को फाइनल में पहुंचाया। दिल्ली की अंडर-14, अंडर-16 टीम के कप्तान रहे।

खास बात: मनजोत कालरा को एक फैन ने कहा था कि वे शाहरुख खान की तरह दिखते हैं।

अनुकूल, 19 साल, झारखंड

- कुछ महीने पहले उन्हें एड़ी में इंजरी हो गई थी। द्रविड़ ने समझाया- धैर्य रखो और ठीक होते ही प्रैक्टिस में जुट जाआे।

खास बात: रवींद्र जडेजा के फैन हैं। उनका कमरा जडेजा की फोटो से भरा हुआ है। जडेजा की तरह ही खेलते हैं।

कमलेश, 18 साल, राजस्थान

- उत्तराखंड में जन्मे कमलेश ने विजय हजारे ट्रॉफी (2016-17) में हैट्रिक ली। राजस्थान से ऐसा करने वाले पहले।

खास बात: पिता सेना में थे। बेटे के क्रिकेट के प्रति जुनून को देखकर जयपुर में बसने का फैसला किया।

हार्विक, 18 साल, सौराष्ट्र

- 2016 में वर्ल्ड कप की टीम में चुने गए थे। आखिरी मौके पर उनकी जगह ईशान किशन और ऋषभ पंत को वरीयता दी गई।
खास बात: पिता क्लॉथ डीलर और टेलर थे। दो साल की उम्र से खेलने की जिद। पढ़ाई नहीं करना चाहते थे।

शिवम, 19 साल, यूपी

- वर्ल्ड कप में 146 किमी/घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी कर नजरों में आए। नीलामी में केकेआर ने 3 करोड़ में खरीदा।
खास बात: दो साल पहले चोटिल हुए। एक साल क्रिकेट नहीं खेल पाए। फिर भी रोजाना ग्राउंड पर जाते थे।

रियान, 16 साल, असम

- 2017 में इंग्लैंड के खिलाफ यूथ टेस्ट में दोनों पारियों में हाफ सेंचुरी जमाई। 21वीं सदी में पैदा हुए एकमात्र क्रिकेटर।
खास बात: वजन कम करने के लिए उन्होंने डेढ़ साल तक कीटोजेनिक डाइट (कार्बोहाइड्रेट रहित डाइट) ली।

शिवा सिंह, 18 साल, यूपी

- मुरादाबाद में जन्मे शिवा ने पिछले साल साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे में 6 ओवर में 9 रन देकर 2 विकेट लिए थे।
खास बात: पिता अजीत सिंह भी क्रिकेटर थे। बचपन से ही पिता के साथ क्रिकेट खेलते। इसका फायदा मिला।

अभिषेक, 17 साल, पंजाब

- विजय मर्चेंट ट्रॉफी में सबसे ज्यादा रन और विकेट। एक टूर्नामेंट में दो डूंगरपुर अवॉर्ड पाने वाले अकेले क्रिकेटर हैं।
खास बात: पिता राजकुमार शर्मा भी क्रिकेटर थे। अभिषेक ने 10वीं बोर्ड में 80% से ज्यादा अंक हासिल किए थे।

ईशान पोरेल, 19 साल, बंगाल

- पाकिस्तान के खिलाफ 4 विकेट झटके थे। 2017 में चैलेंजर ट्रॉफी में दूसरे सबसे सफल गेंदबाज थे।
खास बात: क्रिकेट के लिए स्कूल छोड़ दिया। पहले बल्लेबाज थे। 6 फीट 3 इंच हाइट के कारण गेंदबाज बने।

मुंबई के प्रथ्वी शॉ टीम के कप्तान और राहुल द्रविड़ कोच हैं। मुंबई के प्रथ्वी शॉ टीम के कप्तान और राहुल द्रविड़ कोच हैं।
दिल्ली के मनजोत कालरा ने फाइनल में शानदार सेन्चुरी लगाई। दिल्ली के मनजोत कालरा ने फाइनल में शानदार सेन्चुरी लगाई।
पंजाब के शुभमन गिल ने पाकिस्तान के खिलाफ सेन्चुरी लगाई थी। पंजाब के शुभमन गिल ने पाकिस्तान के खिलाफ सेन्चुरी लगाई थी।
X
भारत ने शनिवार को चौथी बार अंडर-19 वर्ल्ड कप जीतकर इतिहास रचा।भारत ने शनिवार को चौथी बार अंडर-19 वर्ल्ड कप जीतकर इतिहास रचा।
मुंबई के प्रथ्वी शॉ टीम के कप्तान और राहुल द्रविड़ कोच हैं।मुंबई के प्रथ्वी शॉ टीम के कप्तान और राहुल द्रविड़ कोच हैं।
दिल्ली के मनजोत कालरा ने फाइनल में शानदार सेन्चुरी लगाई।दिल्ली के मनजोत कालरा ने फाइनल में शानदार सेन्चुरी लगाई।
पंजाब के शुभमन गिल ने पाकिस्तान के खिलाफ सेन्चुरी लगाई थी।पंजाब के शुभमन गिल ने पाकिस्तान के खिलाफ सेन्चुरी लगाई थी।
Click to listen..