--Advertisement--

साउथ अफ्रीका में भारत ने 3 में से 2 सीरीज जीतीं, अगले साल के वर्ल्ड कप का एक प्लान तैयार

दौरे की शुरुआत में टेस्ट सीरीज हारने के बाद भारत ने साउथ अफ्रीका को वनडे और टी-20 सीरीज में हराया।

Dainik Bhaskar

Feb 26, 2018, 05:47 PM IST
टीम इंडिया का डेढ़ महीने लंबा साउथ अफ्रीका दौरा 24 फरवरी को पूरा हुआ। -फाइल टीम इंडिया का डेढ़ महीने लंबा साउथ अफ्रीका दौरा 24 फरवरी को पूरा हुआ। -फाइल

नई दिल्ली. टीम इंडिया के लिए डेढ़ महीने लंबा साउथ अफ्रीका दौरा आईसीसी वर्ल्ड कप, 2019 की तैयारियों के लिहाज से काफी अहम रहा। दौरे की शुरुआत में टेस्ट सीरीज में हार के बाद भारत ने अगली दोनों सीरीज (वनडे और टी20) पर कब्जा किया। कप्तान विराट कोहली तीनों फॉर्मेट में टॉप परफॉर्मर रहे। इसके अलावा कुछ पॉजिटिव बातें भी सामने आईं। जैसे- तीन टेस्ट की सभी 6 पारियों में अफ्रीका की पूरी टीम को पवेलियन वापस भेजना। वनडे और टी 20 में बल्लेबाजों के साथ गेंदबाजों का मैच जिताऊ प्रदर्शन। देखा जाए तो यह दौरा भारत के लिए अगले वर्ल्ड कप का प्लान-A तैयार करने में काफी मददगार साबित हुआ।

# टेस्ट सीरीज

1. गेंदबाजों का बेहतरीन प्रदर्शन

- टेस्ट सीरीज में गेंदबाजों ने उम्मीद के मुताबिक, अफ्रीका को 3 टेस्ट की हर पारी में ऑलआउट किया, लेकिन बैटिंग में प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा और सीरीज में 2-1 से हार मिली।

- भारत की ओर से मोहम्मद शमी ने 3 टेस्ट मैच में 15 विकेट लिए। वहीं, जसप्रीत बुमराह ने भी 14 विकेट अपने नाम किए। भुवनेश्वर (2 टेस्ट, 10 विकेट) और इशांत (2 टेस्ट, 8 विकेट) भी अफ्रीकी तेज पिचों पर असरदार साबित हुए। तेज गेंदबाजों ने 6 पारियों के कुल 60 विकेट में से 47 अपने नाम कर लिए।

- टेस्ट सीरीज की सबसे बड़ी खोज रहे जसप्रीत बुमराह, जिन्हें बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत कोच रवि शास्त्री और कैप्टन विराट की तारीफ मिली। टेस्ट सीरीज के बाद कोहली ने बुमराह के लिए कहा, “बुमराह टेस्ट में हमारे पसंदीदा 11 खिलाड़ियों की टीम का हिस्सा है। सीरीज में कई मौकों पर सफलता दिलाई। वो अनुभवी गेंदबाज के जैसे खेला।''

2. बल्लेबाजों ने किया निराश

- बल्लेबाजी में कप्तान विराट के अलावा कोई भी बल्लेबाज ज्यादा असरदार प्रदर्शन नहीं कर पाया। विराट ने सिर्फ एक शतक लगाया, लेकिन इसके बावजूद सीरीज में सबसे ज्यादा (286) रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे। एबी डीविलियर्स 211 रन बनाकर दूसरे नंबर पर थे।

- विराट के अलावा इस दौरे में टीम के स्टार परफॉर्मर रोहित शर्मा से काफी उम्मीद लगाई गईं, लेकिन पूरी सीरीज में रोहित का बल्ला शांत रहा, जिसके चलते उनकी जमकर आलोचना भी हुई।


# वनडे सीरीज

1. मेजबान को 6 में से सिर्फ एक मैच जीतने दिया

- 6 मैचों की वनडे सीरीज में भारत ने साउथ अफ्रीका को संभलने का मौका ही नहीं दिया और 5-1 से जीती। जहां पहले, दूसरे और तीसरे मैच में टीम ने साउथ अफ्रीका पर आसानी से जीत हासिल की। वहीं, मेजबानों को वनडे सीरीज की एकमात्र जीत चौथे वनडे में मिली। 5वें और 6वें वनडे में भारत ने एकबार फिर विपक्षी टीम पर जीत हासिल की।

2. बल्लेबाजी में कोहली ने दिखाया दम

- बल्लेबाजी में कप्तान विराट कोहली ने एक बार फिर अपनी पुरानी फॉर्म दिखाते हुए 6 मैचों में 3 शतकों की मदद से 558 रन ठोक डाले।

- हालांकि, वनडे सीरीज में अफ्रीका की हार का कारण उनके बड़े प्लेयर्स का चोटिल होना भी माना जा सकता है। पहले एबी डीविलियर्स फिर फाफ डूप्लेसिस और उसके बाद विकेटकीपर क्विंटन डी कॉक, टीम के तीनों ही खिलाड़ी सीरीज के दौरान चोटिल हो गए।

3. चहल-कुलदीप (CHA-KU) की जोड़ी नहीं समझ पाए मेजबान

- टीम के दो युवा स्पिनर युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने 6 मैचों में कुल 33 विकेट आपस में बांटे। जहां साउथ अफ्रीका की पिचों को तेज गेंदबाजों के अनुकूल माना जाता है, वहां दो स्पिनरों ने साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों के लिए कोई मौका नहीं छोड़ा।

टी20 सीरीज

1. दोनों टीमों के बीच कांटे की टक्कर रही

- इस फॉर्मेट में भी टीम इंडिया ने मेजबानों को 2-1 से हराया। हालांकि, इस सीरीज का फैसला तीसरे और फाइनल मैच में हुआ। जहां पहले मैच में भारत ने साउथ अफ्रीका पर 28 रन की आसान जीत हासिल की वहीं, दूसरे मैच में धोनी के अच्छे प्रदर्शन के बावजूद अफ्रीका के विकेटकीपर बल्लेबाज क्लासेन की पारी भारी पड़ी। लेकिन तीसरे मैच में कड़े मुकाबले के बाद भारत ने साउथ अफ्रीका पर जीत हासिल कर सीरीज अपने नाम कर ली।

2. वापसी के बाद फॉर्म में लौटे सुरेश रैना

- टी20 सीरीज में वापसी करने वाले ऑलराउंडर सुरेश रैना सीरीज के दौरान अलग अंदाज में दिखे। पहले और दूसरे मैच में सामान्य प्रदर्शन करने के बाद रैना तीसरे मैच में ‘मैन ऑफ द मैच’ चुने गए। माना जा रहा है कि इस प्रदर्शन की बदौलत सिलेक्टर्स उन्हें फिर से 50 ओवरों के फॉर्मेट में मौका देने की सोच सकते हैं। ओपनर शिखर धवन ने भी बेहतरीन प्रदर्शन किया।

3. मैन आॅफ द सीरीज चुने गए भुवनेश्वर

- गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार अपने शानदार प्रदर्शन की बदौलत मैन ऑफ द सीरीज चुने गए। आखिरी मैच में सधी हुई गेंदबाजी की बदौलत भुवनेश्वर ने विरोधियों के लिए वापसी का कोई मौका नहीं छोड़ा। उन्होंने 3 मैचों में मेजबानों के 7 विकेट झटके।

# कैसे तैयार हुआ वर्ल्ड कप का प्लान?

- साउथ अफ्रीका दौरा भारत की वर्ल्ड कप तैयारियों के लिए अहम माना जा रहा है। अफ्रीका की कठिन पिचों पर भारत की जीत से कोच रवि शास्त्री का प्लान-A लगभग तैयार माना जा रहा है।

- गेंदबाजी में कुलदीप-चहल की जोड़ी वर्ल्ड कप के लिए टीम के स्पिनर्स की जरूरतों को पूरा करते हैं, वहीं तेज गेंदबाजों में भुवनेश्वर, बुमराह और ऑलराउंडर के तौर पर हार्दिक पांड्या टीम की गेंदबाजी ब्रिगेड का मजबूत हिस्सा हैं।

- वहीं, बल्लेबाजी में विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी टीम का हिस्सा रह सकते हैं। वहीं, टॉप ऑर्डर में रोहित शर्मा, शिखर धवन और विराट कोहली पहले ही टीम को मजबूत दे रहे हैं। 4th और 5th पोजिशन के कई दावेदार हैं। इनमें अजिंक्य रहाणे और मनीष पांडे फिट बैठ सकते हैं।

- अपनी तेज बैटिंग और ऑफ स्पिनर की बदौलत केदार जाधव भी टीम में अहम रोल निभाते हैं। साथ ही युवा खिलाड़ियों में श्रेयस अय्यर का नाम भी सिलेक्टर्स और कोच रवि शास्त्री के दिमाग में जरूर होगा। सुरेश रैना ने भी शानदार वापसी कर ध्यान खींचा है।

साउथ अफ्रीका दौरा पर शास्त्री ने क्या कहा?

- कोच रवि शास्त्री भी साउथ अफ्रीका दौरे में टीम के प्रदर्शन से संतुष्ट नजर आए। उन्होंने कहा, “वर्ल्ड कप की तैयारियों के तौर पर देखा जाए तो टीम का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है। इस दौरे में टीम ने कई अच्छी आदतें सीखीं। ये एक युवा साइड है और आने वाले दौरे इससे भी मुश्किल हो सकते हैं।”
- “मुझे लगता है खिलाड़ियों ने अपने आप को काफी अच्छे से संभाला। एक चीज जो इतिहास ने मुझे बताई, वो ये है कि मैं 1992 से साउथ अफ्रीका आ रहा हूं और तब से अबतक कोई शख्स ये नहीं कह सकता कि हमने कमजोर साउथ अफ्रीकी टीम का सामना किया है।”

माना जा रहा है कि खिलाड़ियों के प्रदर्शन से कोच रवि शास्त्री खुश हैं। -फाइल माना जा रहा है कि खिलाड़ियों के प्रदर्शन से कोच रवि शास्त्री खुश हैं। -फाइल
X
टीम इंडिया का डेढ़ महीने लंबा साउथ अफ्रीका दौरा 24 फरवरी को पूरा हुआ। -फाइलटीम इंडिया का डेढ़ महीने लंबा साउथ अफ्रीका दौरा 24 फरवरी को पूरा हुआ। -फाइल
माना जा रहा है कि खिलाड़ियों के प्रदर्शन से कोच रवि शास्त्री खुश हैं। -फाइलमाना जा रहा है कि खिलाड़ियों के प्रदर्शन से कोच रवि शास्त्री खुश हैं। -फाइल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..