टॉकिंग पिक्चर्स

--Advertisement--

इस प्लेयर की शर्मनाक हरकत से डिसक्वालीफाई हो जाती पूरी बांग्लादेश टीम

निदाहास ट्रॉफी के छठे मुकाबले में कुछ ऐसा हुआ कि पूरी बांग्लादेश टीम ही डिस्कवालीफाई हो जाती।

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2018, 10:02 AM IST
थर्ड अंपायर से बहस करते शाकिब अल हसन। थर्ड अंपायर से बहस करते शाकिब अल हसन।

कोलंबो. कोलंबो के आर. प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए बांग्लादेश-श्रीलंका के बीच निदाहास ट्रॉफी के छठे मुकाबले में कुछ ऐसा हुआ कि पूरी बांग्लादेश टीम ही डिस्कवालीफाई हो जाती। आखिरी ओवर में बांग्लादेशी कप्तान शाकिब अल हसन अचानक अपने खिलाड़ियों को वापस पविलियन बुलाने लगे। यही नहीं, इस दौरान बांग्लादेशी और श्रीलंकाई क्रिकेटरों के बीच जमकर बहस हुई। ऐसे हुआ ये सब...

-छक्का लगाकर बांग्लादेश को जीत दिलाने वाले महमूदुल्लाह ने मैच के बाद बताया कि आखिरी ओवर की शुरुआती दोनों बॉल कंधे से ऊपर थीं और फील्ड अंपायर ने नो-बॉल नहीं दिया। इसी वजह से बाउंड्री लाइन पर खड़े शाकिब अंपायर से भिड़ गए। शाकिब ने प्लेयर्स को वापस बुलाने का इशारा भी कर दिया।

ऐसे डिस्क्वालीफाई हो जाती टीम
लगभग 10 मिनट तक चले इस घटनाक्रम का खात्मा किया बांग्लादेशी कोच ने। उनके समझाने के बाद शाकिब ने अपने प्लेयर्स को खेलने के लिए भेजा। अगर बांग्लादेशी बल्लेबाज बैटिंग के लिए नहीं जाते तो टीम को टूर्नामेंट से डिस्क्वालीफाई कर दिया जाता और फाइनल में भारत से श्रीलंका भिड़ता।

आखिरी ओवर का रोमांच
आखिरी ओवर श्रीलंका के उदाना कर रहे थे। पहली बॉल पर मुस्तफिजुर रहमान कोई रन नहीं बना पाए, जबकि दूसरी बॉल पर मुस्तफिजुर रन आउट हो गए थे। तब बांग्लादेश 4 बॉल में 12 रन चाहिए थे। जब दोनों बैट्समैन वापस क्रीज पर पहुंचे तब भी दोनों देशों के खिलाड़ियों में गुस्सा साफ देखा जा सकता था। महमूदुल्लाह (43 रन) ने ओवर की तीसरी गेंद पर चौका, चौथी गेंद पर 2 रन और 5वीं गेंद को छक्का उड़ाकर बांग्लादेश को एक बॉल रहते जीत दिला दी। इसके बाद टीम ने विरोध जताते हुए नागिन डांस भी किया बांग्लादेश टीम की फाइनल में भिड़ंत भारत से 18 मार्च को इसी मैदान होगी।

ICC ले सकती है एक्शन
अगर बांग्लादेशी कप्तान और खिलाड़ियों की अंपायर्स से नौकझोंक की शिकायत मैच रेफरी आईसीसी से करते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई होना तय है। मैच के बाद बांग्लादेश के कप्तान शाकिब ने श्रीलंकाई खिलाड़ियों को अपना दोस्त बताकर मामले को नॉर्मल करने का प्रयास किया लेकिन श्रीलंकाई भी बाद में भड़क उठे।

आगे की स्लाइड्स में देखें, कैसे हुआ ये सब...

अंपायर के मना करने के बाद भी शाकिब ने अपने प्लेयर्स को वापस बुलाने का इशारा कर दिया। अंपायर के मना करने के बाद भी शाकिब ने अपने प्लेयर्स को वापस बुलाने का इशारा कर दिया।
मैच रेफरी भी शाकिब को समझाने पहुंचे। मैच रेफरी भी शाकिब को समझाने पहुंचे।
फील्ड पर थिसारा परेरा (दाएं) से बहस करते हसन फील्ड पर थिसारा परेरा (दाएं) से बहस करते हसन
Shocking Behaviour of Bangladeshi Players In Nidahas Trophy
Shocking Behaviour of Bangladeshi Players In Nidahas Trophy
Shocking Behaviour of Bangladeshi Players In Nidahas Trophy
Shocking Behaviour of Bangladeshi Players In Nidahas Trophy
Shocking Behaviour of Bangladeshi Players In Nidahas Trophy
X
थर्ड अंपायर से बहस करते शाकिब अल हसन।थर्ड अंपायर से बहस करते शाकिब अल हसन।
अंपायर के मना करने के बाद भी शाकिब ने अपने प्लेयर्स को वापस बुलाने का इशारा कर दिया।अंपायर के मना करने के बाद भी शाकिब ने अपने प्लेयर्स को वापस बुलाने का इशारा कर दिया।
मैच रेफरी भी शाकिब को समझाने पहुंचे।मैच रेफरी भी शाकिब को समझाने पहुंचे।
फील्ड पर थिसारा परेरा (दाएं) से बहस करते हसनफील्ड पर थिसारा परेरा (दाएं) से बहस करते हसन
Shocking Behaviour of Bangladeshi Players In Nidahas Trophy
Shocking Behaviour of Bangladeshi Players In Nidahas Trophy
Shocking Behaviour of Bangladeshi Players In Nidahas Trophy
Shocking Behaviour of Bangladeshi Players In Nidahas Trophy
Shocking Behaviour of Bangladeshi Players In Nidahas Trophy
Click to listen..