Hindi News »Sports »Cricket »Talking Pictures» Driver Meher Mohammad Khalil Became A Hero When Militants Attacked The Sri Lankan Cricket Team In 2009

जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत

साल 2009 में श्रीलंकाई क्रिकेट टीम 3 टेस्ट और 3 वनडे मैचों की सीरीज खेलने के लिए पाकिस्तान गई थी।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Mar 03, 2018, 06:21 PM IST

    • 3 मार्च साल 2009 में पाकिस्तान टूर पर गई श्रीलंकाई प्लेयर्स की बस पर लाहौर में आतंकी हमला हुआ था। उस वक्त बस चला रहे मोहम्मद खलील (राइट फोटो) की सूझबूझ की वजह से प्लेयर्स की जान बच सकी थी।

      स्पोर्ट्स डेस्क.3 मार्च का दिन क्रिकेट हिस्ट्री में एक काले दिन के तौर पर याद किया जाता है। साल 2009 में इसी दिन पाकिस्तान टूर पर गई श्रीलंकाई क्रिकेट टीम पर लाहौर में आतंकवादी हमला हुआ था। जिसमें प्लेयर्स की जान बाल-बाल बची थी। आतंकी, मेहमान टीम के सभी प्लेयर्स की जान लेने के मकसद से आए थे, लेकिन एक शख्स की हिम्मत की वजह से पूरी टीम की जान बच गई थी। गोलियों के बीच ड्राइवर ने दिखाई थी हिम्मत...

      - साल 2009 में श्रीलंकाई क्रिकेट टीम 3 टेस्ट और 3 वनडे मैचों की सीरीज खेलने के लिए पाकिस्तान गई थी। 1 मार्च से सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच शुरू हुआ था।
      - 3 मार्च को मैच के तीसरे दिन श्रीलंकाई क्रिकेटर्स बस में सवार होकर होटल से लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम जाने के लिए निकले। इसी दौरान रास्ते में करीब 12 आतंकवादियों ने टीम की बस पर हमला कर दिया।
      - जिसके बाद टीम के साथ मौजूद सुरक्षा बलों से जवाबी कार्रवाई करते हुए उन्हें जवाब भी दिया। हमालावरों ने टीम की बस पर रॉकेट लॉन्चर भी दागा, लेकिन किस्मत से ये निशाना चूक गया।
      - इस दौरान बस को मेहर मोहम्मद खलील नाम का ड्राइवर चला रहा था। खलील ने सूझ-बूझ दिखाते हुए बस को नहीं रोका और भारी गोलीबारी के बीच बस को लगातार चलाकर स्टेडियम तक पहुंच गया।

      खतरे के बाद भी बचाई प्लेयर्स की जान

      - 3 मार्च, 2009 को टीम बस पर हुए इस हमले की पूरी घटना के बारे में खलील ने बताया था। खलील के मुताबिक 'पहले मुझे लगा कि ये मेहमान टीम के स्वागत में फोड़े जा रहे पटाखों की आवाज है। लेकिन फिर एक आदमी हमारी बस के ठीक सामने आ गया और तड़ातड़ गोलियां बरसाने लगा। इसके बाद मुझे लगा कि ये पटाखे नहीं कुछ और है। हम पर हमला हुआ है।'
      - 'उस वक्त मैं घबरा गया, लेकिन तभी पीछे से श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने चिल्लाते हुए बस भगाने को कहा। उन्होंने इतनी तेज चीखा कि मुझे 440 वोल्ट करंट जैसा महसूस हुआ। फिर पता नहीं क्या हुआ, मैं बिना कुछ सोचे समझे बस भगाने लगा।'
      - खलील ने बताया, 'सेफ लोकेशन पर पहुंचने के बाद श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने मेरी काफी सराहना की। उनमें से एक खिलाड़ी ने मुझे साथ श्रीलंका चलने को कहा, लेकिन मैंने कहा कि मैं परिवार वाला हूं। उन्हें छोड़कर मैं कहीं नहीं जा सकता।'
      - इस बहादुरी के लिए खलील को श्रीलंका के राष्ट्रपति ने सम्मानित भी किया था।

      8 लोगों की हुई थी मौत

      - इस हमले में श्रीलंकाई कप्तान माहेला जयवर्धने, उपकप्तान कुमार संगाकारा समेत 6 प्लेयर्स को चोट आई थी। वहीं टीम के असिस्टेंट कोच को भी चोट लगी थी।
      - हमले में पाकिस्तान पुलिस के 6 जवान समेत 8 लोगों की मौत हो गई थी। हमले के बाद श्रीलंकाई प्लेयर्स को स्टेडियम से एयरलिफ्ट कर एयरपोर्ट पहुंचाया गया था।

      आगे की स्लाइड्स में देखें, किस तरह हुआ था श्रीलंका टीम पर हमला...

    • जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत, sports news in hindi, sports news
      +14और स्लाइड देखें
      आतंकियों ने श्रीलंकाई प्लेयर्स की बस पर गोलियां चलाने के अलावा रॉकेट लॉन्चर भी छोड़ा था। हालांकि वो निशाना चूक गया था।
    • जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत, sports news in hindi, sports news
      +14और स्लाइड देखें
      इस आतंकी हमले में 7 श्रीलंकाई प्लेयर्स घायल हुए थे। फोटो में वाइफ और बच्चे के साथ थिलान समरवीरा।
    • जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत, sports news in hindi, sports news
      +14और स्लाइड देखें
      हमले के बाद कई प्लेयर्स को हॉस्पिटल ले जाना पड़ा था।
    • जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत, sports news in hindi, sports news
      +14और स्लाइड देखें
      ये आतंकी हमला श्रीलंकाई टीम के होटल से स्टेडियम जाने के दौरान रास्ते में हुआ था। हमले में श्रीलंकाई स्पिनर अजंता मेंडिस को भी चोट आई थी।
    • जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत, sports news in hindi, sports news
      +14और स्लाइड देखें
      इस हमले में स्टार विकेटकीपर बैट्समैन कुमार संगकारा, स्पिनर अजंता मेंडिस, थिलान समरवीरा, थरंगा परनाविताना, सुरंगा लकमल, थिलाना थुसारा और असिस्टेंट कोच पॉल फारब्रेस आतंकी हमले में घायल हुए थे।
    • जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत, sports news in hindi, sports news
      +14और स्लाइड देखें
      हमले के बाद बस के बाहर खड़े पुलिसकर्मी।
    • जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत, sports news in hindi, sports news
      +14और स्लाइड देखें
      हमले में श्रीलंकाई प्लेयर्स को बचाने के दौरान कई पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे।
    • जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत, sports news in hindi, sports news
      +14और स्लाइड देखें
      इसी बस पर हमला हुआ था।
    • जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत, sports news in hindi, sports news
      +14और स्लाइड देखें
      श्रीलंकाई प्लेयर्स की जान बचाने वाला ड्राइवर मेहर मोहम्मद खलील।
    • जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत, sports news in hindi, sports news
      +14और स्लाइड देखें
      स्टेडियम पहुंचने के बाद प्लेयर्स को एयरलिफ्ट करते हुए वहां से निकाला गया था।
    • जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत, sports news in hindi, sports news
      +14और स्लाइड देखें
      हमले के बाद इसी हेलीकॉप्टर से प्लेयर्स को बाहर निकाला गया था।
    • जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत, sports news in hindi, sports news
      +14और स्लाइड देखें
    • जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत, sports news in hindi, sports news
      +14और स्लाइड देखें
      हमले के बाद स्वदेश लौटे महेला जयवर्द्धने के साथ उनकी वाइफ क्रिस्टीना।
    • जिंदा नहीं बचता कोई श्रीलंकाई प्लेयर, अगर इस शख्स ने नहीं दिखाई होती हिम्मत, sports news in hindi, sports news
      +14और स्लाइड देखें
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Driver Meher Mohammad Khalil Became A Hero When Militants Attacked The Sri Lankan Cricket Team In 2009
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    More From Talking Pictures

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×