--Advertisement--

गंभीर पर बैन लगने के बाद किया था डेब्यू, सालभर बाद की थी जोरदार वापसी

मुरली विजय ने अपना डेब्यू टेस्ट मैच नवंबर 2008 में नागपुर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था।

Danik Bhaskar | Dec 02, 2017, 08:30 PM IST

स्पोर्ट्स डेस्क. भारत और श्रीलंका के बीच दिल्ली में टेस्ट सीरीज का तीसरा और आखिरी मैच खेला जा रहा है। मैच के पहले दिन भारत की ओर से ओपनिंग करने उतरे मुरली विजय ने जबरदस्त बैटिंग करते हुए 155 रन बनाए। ये उनके टेस्ट करियर की 11वीं सेन्चुरी रही। इस मैच में उन्होंने 67 बॉल पर 50 रन बनाकर, अपना टेस्ट करियर की फास्टेस्ट फिफ्टी भी लगाई। मुरली अब टीम के रेगुलर ओपनर हैं, लेकिन उनके डेब्यू की स्टोरी बड़ी इंट्रेस्टिंग है। गंभीर पर बैन के बाद मिला था डेब्यू...

- मुरली विजय ने अपना डेब्यू टेस्ट मैच नवंबर 2008 में नागपुर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था। ये टेस्ट सीरीज का चौथा मैच था।
- उन्हें डेब्यू का मौका गौतम गंभीर पर लगे बैन की वजह से मिला था। दरअसल सीरीज के तीसरे मैच में शेन वॉटसन के साथ मैदान पर हुई झड़प के बाद गंभीर पर एक मैच का बैन लग गया था।
- गंभीर के बाहर होने के बाद मुरली को प्लेइंग इलेवन में मौका मिला। इस मैच की पहली इनिंग में उन्होंने 33 और दूसरी इनिंग में 41 रन बनाए थे। हालांकि अगले मैच में गंभीर की वापसी के साथ ही वे टीम से बाहर हो गए।

दूसरे चांस के लिए सालभर किया इंतजार

- डेब्यू मैच खेलने के बाद मुरली विजय फिर टीम से बाहर हो गए। इसके बाद अगले चांस के लिए उन्हें सालभर तक इंतजार करना पड़ा।
- विजय ने अपने करियर का दूसरा टेस्ट मैच दिसंबर 2009 में खेला। जब आउट ऑफ फार्म गंभीर के बाहर होने के बाद उन्हें बतौर ओपनर श्रीलंका के खिलाफ मैच के लिए चुना गया।
- इस मैच में उन्होंने 87 रन की इनिंग खेली थी और पहले विकेट के लिए सहवाग के साथ मिलकर 221 रन जोड़े थे। इस मैच के बाद वे टीम के लिए रेगुलर ओपनर बन गए।
- मुरली ने अपना वनडे डेब्यू फरवरी 2010 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ अहमदाबाद में खेलते हुए किया था।

ऐसी है फैमिली

- मुरली विजय की वाइफ का नाम निकिता वंजारा है, जिनसे उनके तीन बच्चे हैं।

- मुरली के बड़े बेटे का नाम नीरव और बेटी का नाम ईवा है। इस साल 2 अक्टूबर को वे तीसरे बच्चे के पिता बने, जो कि बेटा है।

ऐसा रहा है क्रिकेट करियर

- विजय ने अपने टेस्ट करियर में 52 मैचों में 3536 रन बनाए हैं। वहीं वनडे करियर में उन्होंने 17 मैच खेले हैं, जिसमें उनके नाम 339 रन हैं।
- मुरली ने अपने टी20 करियर में सिर्फ 9 मैच खेले हैं, जिनमें उन्होंने 169 रन बनाए हैं।

- विजय ने IPL के 8 सीजन खेलकर 100 मैचों में 2511 रन बनाए हैं। इस टूर्नामेंट में वे चेन्नई सुपर किंग्स, दिल्ली डेयरडेविल्स और किंग्स इलेवन पंजाब टीम से खेल चुके हैं।

आगे की स्लाइड्स में देखें, मुरली विजय की पर्सनल लाइफ के फोटोज...

ऐसी रही थी शुरुआत

 

- मुरली विजय चेन्नई के रहने वाले हैं, जिनका जन्म 1 अप्रैल 1984 को हुआ था। उन्होंने 17 साल की उम्र में क्रिकेट खेलना शुरू किया था।
- तमिलनाडु की अंडर 22 टीम में सिलेक्शन से पहले तक वे चेन्नई में अलवरपेट के लिए क्लब क्रिकेट खेला करते थे।
- साल 2003-04 में उनका सिलेक्शन पहली बार अंडर 22 टीम में सीके नायुडू ट्रॉफी के लिए हुआ था। इस टूर्नामेंट के छह मैचों में ओपनर के तौर पर उन्होंने सिर्फ 26.45 के एवरेज से रन बनाए।
- इसके बाद अगले साल एकबार फिर सीके नायुडू ट्रॉफी के लिए उनका सिलेक्शन तमिलनाडु टीम में हुआ। इस बार तीन मैचों में वे 26.50 के एवरेज से ही रन बना सके।
- मुरली विजय ने फर्स्ट क्लास डेब्यू नवंबर 2006 में तमिलनाडु टीम से खेलते हुए किया था। अपने डेब्यू रणजी सीजन में ही वे टूर्नामेंट के टॉप स्कोरर में से एक रहे थे।