--Advertisement--

इस खिलाड़ी के रूप में टीम इंडिया को मिला नया 'वीरू', ऐसी है पर्सनल Life

श्रेयस अय्यर ने श्रीलंका के खिलाफ पहले वनडे मैच से ही वनडे डेब्यू किया। अपने पहले मैच में उन्होंने 9 रन बनाए।

Danik Bhaskar | Dec 16, 2017, 06:29 PM IST
बॉलीवुड एक्ट्रेस सुष्मिता सेन के साथ श्रेयस अय्यर। बॉलीवुड एक्ट्रेस सुष्मिता सेन के साथ श्रेयस अय्यर।

स्पोर्ट्स डेस्क. श्रीलंका के खिलाफ मोहाली में हुआ दूसरा वनडे पूरी तरह से रोहित शर्मा के नाम रहा। उनकी डबल सेन्चुरी की ही चर्चा रही, लेकिन उसी मैच में यंग बैट्समैन श्रेयस अय्यर ने भी 88 रन की इनिंग खेली थी। श्रेयस-रोहित के बीच 213 रन की पार्टनरशिप हुई थी। ये इस मैच की सबसे बड़ी पार्टनरशिप थी। इसलिए श्रेयस को कहते हैं वीरेंद्र सहवाग....

- आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए खेलने वाले श्रेयस अपनी बैटिंग से सभी को इम्प्रेस कर चुके हैं। मुंबई के इस क्रिकेटर की तुलना वीरेंद्र सहवाग से होती है।
- 2017 के आईपीएल में उन्होंने हैदराबाद के खिलाफ मैच में 31 बॉल में नॉटआउट हाफ सेन्चुरी लगा थी। श्रेयस के खेलने का अंदाज विस्फोटक है। इसी वजह से उनके टीममेट्स उन्हें 'यंग वीरू' भी बुलाते हैं।

2 मैचों में 97 रन

- श्रेयस अय्यर ने श्रीलंका के खिलाफ पहले वनडे मैच से ही वनडे डेब्यू किया। अपने पहले मैच में उन्होंने 9 रन बनाए। दिग्गजों से भरी टीम में वो धोनी के बाद सबसे ज्यादा बॉल खेलने वाले प्लेयर रहे। ये तब था जब भारतीय बैटिंग फ्लॉप हो चुकी थी। धोनी ने सबसे ज्यादा 87 बॉल खेली थी और श्रेयस ने 27।

- दूसरे वनडे में उन्होंने 88 रन की इनिंग खेली। 70 बॉल का सामना करते हुए श्रेयस ने 9 चौके और 2 छक्के लगाए थे।

आगे की स्लाइड्स में देखें श्रेयस अय्यर की पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ की फोटोज और जानें उनके क्रिकेट करियर के फैक्ट्स...

पिता के साथ श्रेयस। पिता के साथ श्रेयस।
पिता ने की क्रिकेट सिखाने की शुरुआत
 
- श्रेयस के पिता संतोष अय्यर ने कम उम्र में क्रिकेट के प्रति उनका इंटरेस्ट देख लिया था। संतोष के अनुसार, ‘मैं घर के अंदर ही उसे बॉलिंग करता था, जैसे कोई भी दूसरा पिता अपने बेटे को करता है। वो हमेशा पूरी ताकत से बॉल को मारना चाहता था। ये नेचुरल था। 8 साल की उम्र में उसने इंडियन जिमखाना में 46 बॉल में सेन्चुरी लगा दी थी।’ बिजनेसमैन होने के कारण श्रेयर के पिता काफी समय घर से बाहर रहते थे, लेकिन उन्होंने जल्दी ही उनकी क्रिकेट कोचिंग लगवा दी। संतोष पूरे वक्त श्रेयस के कोच से कॉन्टेक्ट में रहते थे। उनके अनुसार, ‘कोच से मैं श्रेयस की परफॉर्मेंस के बारे में पूछता था, लेकिन कोच ने कहा कि श्रेयस अभी काफी छोटा है। उसे अगले साल लेकर आना। उसकी किस्मत अच्छी थी, क्योंकि अगले साल पूर्व क्रिकेटर प्रवीण आमरे वहां के कोच थे। उन्होंने श्रेयस पर खास ध्यान दिया।’
आमरे रहे पहले कोचः
- पूर्व इंडियन क्रिकेटर प्रवीण आमरे ने श्रेयस का क्रिकेट टैलेंट पहचाना और उन्हें 12 साल की उम्र से ट्रेनिंग दी थी। इसके बाद 2014 में 20 साल के श्रेयस ब्रिटेन में ट्रेन्ट ब्रिज क्रिकेट टीम के लिए खेलने गए थे। यहां उन्होंने तीन मैचों में 99 के एवरेज से 297 रन बनाए थे। इसमें बेस्ट स्कोर 171 रन था, जो रिकॉर्ड था।
डॉगी के साथ श्रेयस। डॉगी के साथ श्रेयस।
पर्सनल लाइफ में हैं ऐसे
 
- श्रेयस पेट लवर हैं। वो कई बार स्ट्रीट डॉग को घर ला चुके हैं। उन्हें क्रिकेट के अलावा बैडमिंटन और फुटबॉल खेलना पसंद है। वो मूवी और म्यूजिक के शौकीन हैं। श्रेयस की एक बहन है। श्रेयस की मां रोहिनी उनके मैच को बहुत ध्यान से देखती हैं। श्रेयस जब तक खेलते हैं वो टीवी के सामने से हटती नहीं। फैमिली में श्रेयस सबसे ज्यादा मां के करीब हैं। वो उनसे मजाक करते हैं और उन्हें सबसे ज्यादा छेड़ते भी हैं।
इंग्लैंड में घूमते श्रेयस। इंग्लैंड में घूमते श्रेयस।
एक ही साल में डेब्यूः
- नवंबर, 2014 में ही श्रेयस ने मुंबई के लिए लिस्ट-ए डेब्यू किया। 2014-15 विजय हजारे ट्रॉफी में उन्होंने 54.6 के एवरेज से 273 रन बनाए। दिसंबर, 2014 में ही रणजी ट्रॉफी से फर्स्ट क्लास डेब्यू का मौका भी मिला।
 
 
दिल्ली डेयरडेविल्स टीम के प्लेयर रहे जेपी डुमिनी के साथ श्रेयस (दाएं)। दिल्ली डेयरडेविल्स टीम के प्लेयर रहे जेपी डुमिनी के साथ श्रेयस (दाएं)।
2015 में मिला आईपीएल में ब्रेकः
- श्रेयस हर फॉर्मेट में लगातार रन बनाते जा रहे थे। रणजी में भी उन्होंने 51 के औसत से 809 रन बना डाले, जिसमें दो सेन्चुरी भी थीं। इसी परफॉर्मेंस के बाद IPL फ्रेंचाइजी का ध्यान उनपर गया और दिल्ली डेयरडेविल्स ने 2015 में श्रेयस को 2.6 करोड़ में खरीदा।
बॉलीवुड एक्ट्रेस तब्बू के साथ श्रेयस। बॉलीवुड एक्ट्रेस तब्बू के साथ श्रेयस।
पहले ही सीजन में छाए
- यहां भी श्रेयस ने दमदार परफॉर्मेंस दी और अपने पहले ही टूर्नामेंट में 14 मैचों में 439 रन बना डाले। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 128+ रहा।
सचिन तेंडुलकर से टिप्स लेते श्रेयस। सचिन तेंडुलकर से टिप्स लेते श्रेयस।
रणजी के टॉप स्कोररः
- 2015-16 के रणजी ट्रॉफी सीजन में श्रेयस टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले प्लेयर थे। उन्होंने 13 मैचो में 71 की एवरेज से 930 रन बनाए। टूर्नामेंट में उन्होंने तीन सेन्चुरी और चार हाफ सेन्चुरी लगाईं। उनका टॉप स्कोर 200 रन रहा।
ये श्रेयस अय्यर की पहली मोडिफाइड कार है। ये श्रेयस अय्यर की पहली मोडिफाइड कार है।