--Advertisement--

बेहतरीन रन आउट के बाद क्रिकेटर ने किया जोंटी रोड्स को ट्वीट, उन्होंने उठाया सवाल

मैच के दौरान विनय कुमार ने पंजाब के बैट्समैन गुरकीरत सिंह को जबरदस्त अंदाज में डाइव लगाते हुए रन आउट किया।

Danik Bhaskar | Jan 23, 2018, 04:07 PM IST
विनय कुमार का ट्वीट पढ़ने के बाद जोंटी रोड्स ने सवाल उठाते हुए लिखा, 'विनय मुझे नहीं लगता कि 1992 वर्ल्ड कप के वक्त आप इतने बड़े थे कि वो रन आउट देखा होगा।' विनय कुमार का ट्वीट पढ़ने के बाद जोंटी रोड्स ने सवाल उठाते हुए लिखा, 'विनय मुझे नहीं लगता कि 1992 वर्ल्ड कप के वक्त आप इतने बड़े थे कि वो रन आउट देखा होगा।'

स्पोर्ट्स डेस्क. इन दिनों डोमेस्टिक क्रिकेट में सैयद मुश्ताक अली टी20 क्रिकेट टूर्नामेंट में खेला जा रहा है। जिसमें हाल ही में कर्नाटक और पंजाब की टीमों के बीच मैच हुआ। मैच के दौरान कर्नाटक के क्रिकेटर विनय कुमार छा गए। उन्होंने एक ऐसा रन आउट किया, जिसे देखकर क्रिकेट फैन्स को 1992 क्रिकेट वर्ल्ड का वो मैच याद आ गया, जिसमें जोंटी रोड्स ने इंजमाम उल हक को रन आउट किया था। विनय ने खुद भी जोंटी रोड्स को ट्वीट करते हुए उस मैच की याद दिलाते हुए उनकी तारीफ की, बदले में रोड्स ने उन्हीं पर सवाल उठा दिया। ऐसे हुआ पूरा मोमेंट...

- मैच के दौरान विनय कुमार ने पंजाब के बैट्समैन गुरकीरत सिंह को जबरदस्त अंदाज में डाइव लगाते हुए रन आउट किया।
- मैच में ये वाकिया 12.5 ओवर में नजर आया, जब क्रीज पर मौजूद गुरकीरत मिड ऑन की ओर शॉट खेलने के बाद रन लेने के लिए आगे बढ़े।
- गुरकीरत रन लेने दौड़े तो सही लेकिन फिर उनका मूड चेंज हो गया और वे रूक गए, लेकिन तब तक दूसरा बैट्समैन बैटिंग क्रीज तक पहुंच चुका था।
- इसके बाद मजबूरी में गुरकीरत को भी रन पूरा करने के लिए दौड़ लगानी पड़ी, तब तक मिड ऑन पर खड़े फील्डर ने बॉलर की ओर थ्रो फेंक दिया था। हालांकि वो थ्रो को पकड़ नहीं सका।
- इसके बाद विनय कुमार ने तेजी से आकर बॉल को पकड़ लिया और वे उसे लेकर दौड़ते हुए स्टम्प के करीब गए और डाइव लगाते हुए स्टम्प्स को गिरा दिया।

विनय ने किया ट्वीट, बदले में रोड्स ने पूछ लिया सवाल

- विनय ने जिस तरीके से रन आउट किया वो हूबहू वैसा ही था, जैसा जोंटी रोड्स ने साल 1992 में साउथ अफ्रीका और पाकिस्तान के बीच हुए मैच में किया था।
- मैच के बाद विनय ने इस रन आउट के वीडियो के साथ जोंटी रोड्स को एक ट्वीट किया। जिसमें उन्होंने लिखा, 'Hi कोच जोंटी रोड्स, 1992 वर्ल्ड कप में आपके किए रनआउट वीडियो को कई बार देखने के बाद, मैं भी ऐसी किसी मौके का इंतजार कर रहा था। आखिरकार अब जाकर मुझे वो मौका मिला। ये कैसा था कोच..?'
- जवाब में जोंटी रोड्स ने लिखा, 'विनय मुझे नहीं लगता कि 1992 वर्ल्ड कप के वक्त आप इतने बड़े थे कि वो देखा होगा।'
- रोड्स के सवाल पर विनय ने जवाब देते हुए लिखा, 'आपने सही कहा, लेकिन इसके लिए यू-ट्यूब को धन्यवाद और इतना इंस्पायरिंग होने के लिए आपको ढेर सारा शुक्रिया।'

- कर्नाटक और पंजाब के बीच हुए इस मैच के ड्रॉ रहने के बाद पंजाब ने इसे सुपर ओवर में जीत लिया। बता दें कि विनय कुमार IPL में मुंबई इंडियंस के लिए खेल चुके हैं और तब जोंटी रोड्स उनके फील्डिंग कोच थे।

मैच समरीः

पंजाब- 158/9 & 15/0
कर्नाटक- 158/7 & 11/1

आगे की स्लाइड्स में देखें, विनय और जोंटी रोड्स के बीच हुई बातचीत और रनआउट का वो पूरा मोमेंट...

विनय ने ट्वीट करते हुए लिखा था, 'Hi कोच जोंटी रोड्स, 1992 वर्ल्ड कप में आपके किए   रनआउट वीडियो को कई बार देखने के बाद, मैं भी ऐसी किसी मौके का इंतजार कर रहा था। आखिरकार अब जाकर मुझे वो मौका मिला। ये कैसा था कोच..?' विनय ने ट्वीट करते हुए लिखा था, 'Hi कोच जोंटी रोड्स, 1992 वर्ल्ड कप में आपके किए रनआउट वीडियो को कई बार देखने के बाद, मैं भी ऐसी किसी मौके का इंतजार कर रहा था। आखिरकार अब जाकर मुझे वो मौका मिला। ये कैसा था कोच..?'
रोड्स के सवाल उठाने पर विनय ने जवाब देते हुए लिखा, 'आपने सही कहा, लेकिन इसके लिए यू-ट्यूब को धन्यवाद और इतना इंस्पायरिंग होने के लिए आपको ढेर सारा शुक्रिया।' रोड्स के सवाल उठाने पर विनय ने जवाब देते हुए लिखा, 'आपने सही कहा, लेकिन इसके लिए यू-ट्यूब को धन्यवाद और इतना इंस्पायरिंग होने के लिए आपको ढेर सारा शुक्रिया।'
मिड ऑन की ओर शॉट खेलने के बाद गुरकीरत रन लेने के लिए आगे बढ़े। मिड ऑन की ओर शॉट खेलने के बाद गुरकीरत रन लेने के लिए आगे बढ़े।
थोड़ा आगे बढ़ने के बाद गुरकीरत रूक गए, लेकिन सामने वाला बैट्समैन दौड़ता रहा। थोड़ा आगे बढ़ने के बाद गुरकीरत रूक गए, लेकिन सामने वाला बैट्समैन दौड़ता रहा।
जब दूसरा बैट्समैन बैटिंग क्रीज पर पहुंच गया तो गुरकीरत को भी रन पूरा करने के लिए दौड़ना पड़ा। जब दूसरा बैट्समैन बैटिंग क्रीज पर पहुंच गया तो गुरकीरत को भी रन पूरा करने के लिए दौड़ना पड़ा।
गुरकीरत जब क्रीज से काफी दूर थे तभी फील्डर का थ्रो आया लेकिन बॉलर उसे पकड़ नहीं सका और वे रन आउट होने से बच गए। गुरकीरत जब क्रीज से काफी दूर थे तभी फील्डर का थ्रो आया लेकिन बॉलर उसे पकड़ नहीं सका और वे रन आउट होने से बच गए।
बॉलर के हाथ से बॉल छूटने के बाद दूसरी ओर से विनय कुमार ने दौड़ते हुए आकर बॉल को उठा लिया। बॉलर के हाथ से बॉल छूटने के बाद दूसरी ओर से विनय कुमार ने दौड़ते हुए आकर बॉल को उठा लिया।
इसके बाद विनय कुमार स्टम्प की ओर बढ़ने लगे। इसके बाद विनय कुमार स्टम्प की ओर बढ़ने लगे।
विनय कुमार ने डाइव लगाते हुए स्टम्प की ओर छलांग लगा दी। विनय कुमार ने डाइव लगाते हुए स्टम्प की ओर छलांग लगा दी।
विनय कुमार ने कूदते हुए स्टम्प गिरा दिए और गुरकीरत को रन आउट कर दिया। विनय कुमार ने कूदते हुए स्टम्प गिरा दिए और गुरकीरत को रन आउट कर दिया।
विनय ने जैसे रन आउट किया वो बिल्कुल वैसा था जैसा कि साल 1992 के क्रिकेट वर्ल्ड कप में जोंटी रोड्स ने इंजमाम उल हक को आउट करने के लिए किया था। विनय ने जैसे रन आउट किया वो बिल्कुल वैसा था जैसा कि साल 1992 के क्रिकेट वर्ल्ड कप में जोंटी रोड्स ने इंजमाम उल हक को आउट करने के लिए किया था।